चीन का अंतरिक्ष स्टेशन पृथ्वी पर गिरने से पहले हुआ नष्ट

बीजिंग। चीन का निष्क्रिय अंतरिक्ष स्टेशन ‘तियांगोंग-1’ पृथ्वी पर गिरने से पहले ही वायुमंडल में नष्ट हो गया है। अब इसके कुछ हिस्से पृथ्वी पर गिर सकते हैं। लेकिन भारत के आसपास इसके गिरने की कोई संभावना नहीं है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट से मिली। रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने सोमवार को कहा कि अंतरिक्ष स्टेशन ‘तियांगोंग-1’ दक्षिणी प्रशांत के ऊपर वायुमंडल में दोबारा प्रवेश किया और नष्ट हो गया है। फिर भी, इसके कुछ हिस्से जमीन पर गिरेंगे।

बता दें कि पहले कहा जा रहा था कि यह ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका के बीच गिर सकता है। चाइना मैन्ड स्पेस इंजीनयरिंग ऑफिस (सीएमएसईओ) ने रविवार को चेतावनी दी थी कि ‘तियांगोंग-1’ अंतरिक्ष स्टेशन कुछ ही घंटे में वायुमंडल में प्रवेश कर जाएगा और इसके ऑस्ट्रेलिया से लेकर अमेरिका तक कहीं पर भी गिरने की आशंका है।

वहीं वैज्ञानिकों ने यह भी कहा था कि पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करने के बाद अंतरिक्ष स्टेशन पर नियंत्रण नहीं होगा और यह बिखर जाएगा और इसके कुछ ही हिस्से जमीन तक पहुंचेंगे जो समुद्र या निर्जन क्षेत्र में भी गिर सकते हैं। वहीं, अमेरिका के मिशिगन में अधिकारी इसको लेकर सतर्क हैं, ताकि किसी भी स्थिति से निपटने निपटा जा सके। आपात टीमें भी तैयार की गई हैं। विदित हो कि तियांगोंग-1 एक अंतरिक्ष प्रयोगशाला था जिसे सितंबर, 2011 में प्रक्षेपित किया गया था। इसने जून, 2013 में अपना मिशन पूरा कर लिया था।