सालभर बाद खुले स्कूल

लखनऊ। कोरोना की मार के चलते सालभर से स्कूल और अपने दोस्तों से दूर बच्चे सोमवार को स्कूल पहुंचे। स्कूलों ने शिक्षकों ने टीका लगाकर बच्चों का स्वागत किया। दोस्तों से मिलकर बच्चों के चेहरे खिले-खिले से नजर आए।

कोरोना के बाद प्रदेश के सभी स्क्लों को बंद कर दिया गया था। सालभर से बंद स्क्लों को खोलने के लिए सरकार ने कुछ दिन पहले आदेश जारी किया था। केन्द्र सरकार से आदेश आने के बाद योगी सरकार ने स्कूलों को खोलने का आदेश जारी किया था। इसके बाद स्कूलों में बच्चों के स्वागत की तैयारियां शुरू हो गई थीं।

हालांकि, अक्‍टूबर 2020 में उच्च कक्षाओं में पढ़ाई शुरू हो गई थी। बाकी कक्षाओं की ऑनलाइन पढ़ाई चल रही थी। उत्तर प्रदेश में कक्षा 6 से 8 तक के स्कूल 10 फरवरी से खुल गये थे। इसके बाद प्राइमरी स्क्लों को भी आज से खोल दिया गया है।

 स्कूलों में उत्सव माहौल, बेहद खुश दिखे बच्चे

प्रदेश के कई स्‍कूलों में उत्‍सव जैसा माहौल है। सरकारी स्‍कलों में पहला दिन उत्‍सव के रूप में मनाया जा रहा है। इस संबंध में शासन की ओर से विशेष गाइडलाइन जारी की गई थी। विद्यालय को सजाने संवारने के साथ ही चौपाल, ज्ञानोत्सव जैसे कार्यक्रम भी आयोजित हो रहे हैं।

पहले दिन कई विद्यालयों को गुब्‍बारों से सजाया गया है। आज मिड डे मील में बच्चों का मन पसंद नाश्ता और भोजन परोसा जाएगा। कोविड काल की कहानियों को भी आज बच्‍चे और शिक्षक रोचक अंदाज में बयां करेंगे। आज के दिन को उत्‍सव के रूप में मनाने की तैयारी पिछले एक हफ्ते से चल रही थी। बच्‍चों को स्‍कूल भेजने के बारे में अभिभावकों से सहमति भी ली गई है।

पहले दिन मम्मी-पापा के साथ स्कूल पहुंचे तमाम बच्चे

कोरोना के संक्रमण के बाद स्कूल खुले तो तमाम बच्चे अपने अभिभावकों को साथ लेकर स्कूल पहुंचे। अभिभावकों के मन में तमाम सवाल थे, जिनका शिक्षकों ने जवाब दिया। स्कूल कैंपस में घुसने के बाद अभिभावक शिक्षकों से मिले जबकि बच्चे दोस्तों से मिलने के बाद खेलने-कूदने में व्यस्त हो गए। बच्चों की खुशी देखते ही बन रही थी।

VIDEO: पीएम मोदी ने लिया कोरोना वैक्सीन का पहला डोज़, जानें नर्स ने क्या कहा?

Previous article

विधायक अमनमणि त्रिपाठी के आवास पर लगा कुर्की का नोटिस, भगोड़ा घोषित कर चुकी है पुलिस

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.