featured उत्तराखंड

मुख्य सचिव ने की समीक्षा, कहा प्रोएक्टिव होकर कार्य करना होगा

omprakash मुख्य सचिव ने की समीक्षा, कहा प्रोएक्टिव होकर कार्य करना होगा

मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने सचिवालय में कोविड-19 की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने कहा कि देशभर में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेश में प्रोएक्टिव होकर कार्य करना होगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड-19 के दृष्टिगत सभी जिलाधिकारी अपनी तैयारियां चाक चैबंद रखें। और सभी जनपदों के द्वारा टेस्टिंग बढ़ाई जाएं।

‘100 प्रतिशत टेस्टिंग सुनिश्चित की जाए’

मुख्य सचिव ने आगे कहा कि कंटेनमेंट जोन की 100 प्रतिशत टेस्टिंग सुनिश्चित की जाए। होटल, रेस्टोरेंट समेत भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड बिहेवियर का पालन सुनिश्चित किया जाए। साथ ही कोविड-19 को रोकने के लिए सबसे प्रभावी उपाय कोरोना के प्रति जागरूकता है। अधिक से अधिक जन-जागरूकता फैला कर इसके संक्रमण को रोका जा सकता है।

‘प्रदेश भर में IEC कैंपेन चलाएं’

उन्होने कहा कि 11 अप्रैल से 14 अप्रैल 2021 तक ‘टीका उत्सव’ के रूप में मनाया जाए। लोगों द्वारा आमजन को जागरूक किए जाने के लिए प्रेरित किया जाए। वहीं प्रदेश भर में आईईसी कैंपेन चलाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि जागरूकता अभियान में युवाओं को फोकस किया जाना चाहिए। और कुम्भ क्षेत्र में विशेष ध्यान देते हुए अधिक से अधिक लोगों की टेस्टिंग की जाए। डेथ रिव्यू किए जाने हेतु जोर देते हुए कहा कि इसके लिए सीनियर ऑफिसर नियुक्त किए जाएं।

‘पिछले पीक में प्रदेश ने अच्छा कार्य किया था’

सचिव अमित नेगी ने कहा कि माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जाएं। कोविड के पिछले पीक में प्रदेश ने बहुत अच्छा कार्य किया था। पर्यटक स्थलों में वॉलेंटियर्स और पीआरडी जवानों द्वारा शालीनता के साथ मास्क वितरण और प्रदेशवासियों में मास्क पहनने को लेकर जागरूकता में देश में अच्छा संदेश गया था। उन्होंने कहा कि कोरोना के अगले पीक को देखते हुए हमें समय रहते प्रयास करने होंगे।

‘वैक्सीनेशन में उत्तरकाशी अच्छा काम कर रहा है’

वहीं सचिव डॉ. पंकज कुमार पाण्डेय ने कहा कि वैक्सीनेशन में उत्तरकाशी जनपद राष्ट्रीय स्तर पर काफी अच्छा कार्य कर रहा है। वैक्सीनेशन बढ़ाते हुए वेस्टेज को कम किए जाने के प्रयास किए जाएं, ताकि अधिक से अधिक लोगों को वैक्सिनेट किया जा सके। उन्होंने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग पर अधिक फोकस करते हुए सभी के टेस्ट कराए जाने पर जोर दिया।

जिलाधिकारी समेत कई अधिकारी रहे उपस्थित

वहीं इस अवसर पर सचिव डॉ रंजीत कुमार सिन्हा, महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. तृप्ति बहुगुणा, अपर सचिव विनोद कुमार सुमन, महानिदेशक सूचना रणवीर सिंह चौहान समेत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपदों से सभी जिलाधिकारी उपस्थित थे।

Related posts

आचार्य विद्यासागर महाराज ने त्याग दिया शरीर, पीएम मोदी बोले- अपूरणीय क्षति

Rahul

उन्‍नाव केस में सामने आई पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट, हुआ ये अहम खुलासा

Shailendra Singh

मेरठ की दो मस्जिदों में छिपे थे विदेशी मौलवी, पुलिस ने मारा छापा, साथ देने वालों पर FIR दर्ज

Rahul srivastava