मुख्यमंत्री ने डॉ. सोना कौशल गुप्ता को बी.सी.राय पुरस्कार के लिए चयनित होने पर बधाई दी

देहरादून। डॉ. बी.सी.राय पुरस्कार देश का अति प्रतिष्ठित पुरस्कार है जो कि मेडिकल काउंसिंल आॅफ इंडिया द्वारा प्रदान किया जाता है। नशे के खिलाफ युवाओं को जागरूक करने में डाॅ. सोना के अहम योगदान को देखते हुए उन्हें इस वर्ष के प्रतिष्ठित बी.सी.राय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने देहरादून की डॉ. सोना कौशल गुप्ता को प्रतिष्ठित डॉ. बी.सी.राय पुरस्कार के लिए चुने जाने पर बधाई दी है। उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर यह उत्तराखण्ड के लिए बड़े गौरव की बात है। ‘डॉ. सोना कौशल गुप्ता की समाज के लिए की जा रही सेवाएं सराहनीय हैं। विशेष तौर पर युवाओं में नशे की समस्या को दूर करने के लिए उनके प्रयास काबिले तारीफ हैं।

ज्ञातव्य है कि डॉ बी.सी.राय पुरस्कार देश का अति प्रतिष्ठित पुरस्कार है जो कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले चिकित्सकों को मेडिकल काउंसिंल  ऑफ इंडिया द्वारा प्रदान किया जाता है। न्यूरो साईकोलॉजिस्ट डा. गुप्ता वर्तमान में राजकीय दून मेडिकल कॉलेज में कार्यरत हैं। उन्होंने अपने अध्ययन में पाया कि नशे के कारण युवाओं में मनोरोग की समस्या बढ़ रही है। वे युवाओं में नशे की समस्या को दूर करने के लिए लगातार प्रयासरत हैं। नशे के खिलाफ युवाओं को जागरूक करने में उनके अहम योगदान को देखते हुए उन्हें इस वर्ष के प्रतिष्ठित बी.सी.राय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।