featured यूपी

इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने की सीएम योगी की तारीफ, जानिए कारण

सीएम योगी की हाईकोर्ट ने की तारीफ
लखनऊ/इलाहाबाद: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तारीफ की है। इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्‍य न्‍यायाधीश गोविंद माथुर ने उनकी जमकर तारीफ की है।  उन्‍होंने कहा कि योगी प्रदेश के ऐसे पहले मुख्‍यमंत्री हैं जो अपना काम पूरी ईमानदारी से पूरा कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा सीएम योगी जो कहते हैं वह पूरा करके दिखाते हैं।
जनता के हित में फैसले लेते हैं योगी 
जनता के हित में लिए गए उनके फैसले नजीर है। खासकर कोविड-19 संक्रमण रोकने के लिए उठाए गए उनके कदमों की देश व विदेश में तारीफ की गई है। मुख्‍य न्‍यायाधीश ने कहा कि सीएम ने प्रयागराज को विधि विश्‍वविद्यालय का तोहफा भी दिया है जिसके लिए वह धन्यवाद के पात्र हैं।
प्रदेश सरकार ने किया न्यायपालिका का सहयोग
इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश गोविंद माथुर ने पिछले दोनों अपने विदाई समारोह में ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने हमेशा न्‍यायपालिका का सहयोग किया है।
उन्‍होने कहा कि जनता के प्रति उनकी विनम्रता और माफियाओं के खिलाफ उनका जीरो टॉलरेंस बताता है कि वह दयालु है लेकिन कमजोर नहीं। वह हर चुनौती को स्‍वीकार करते हैं और उसे पूरा करके दिखाते हैं। प्रदेश की 24 करोड़ की जनता के प्रति उनका समर्पण काबिले तारीफ है।
प्रयागराज को विधि विश्‍वविद्यालय का तोहफा
मुख्‍य न्‍यायाधीश गोविंद माथुर ने कहा कि सीएम योगी का प्रयागराज को राष्‍ट्रीय विधि विश्‍वविद्यालय का तोहफा सबसे बड़ी सौगात है। इसके लिए मै उनको दिल से बधाई देता हूं। इस विश्‍वविद्यालय के निर्माण से छात्रों को बेहतर शिक्षा के साथ रोजगार के अवसर भी उपलब्‍ध होंगे।
देश व दुनिया में हो चुकी है तारीफ
यह पहला मौका नहीं है जब प्रदेश की योगी सरकार के कामकाजों की तारीफ की गई हो। इससे पहले केन्‍द्र सरकार आर्थिक सर्वेक्षण 2020-21 में यूपी के सफल प्रबंधन की तारीफ कर चुका है। इसमें महामारी के बीच मुख्‍यमंत्री के लॉकडाउन की घोषणा से कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में काफी मदद मिली थी। विश्‍व स्‍वस्‍थ्‍य संगठन ने भी यूपी के कोविड प्रबंधन की जमकर तारीफ की थी।

Related posts

ईवीएम मामले पर मोइली ने कांग्रेस को ही कटघरे में खड़ा किया

kumari ashu

जल्दबाजी में हुई थी पहली शादी, पति के साथ रहना लगता था कैद में रहने जैसा

Shubham Gupta

Tokyo Olympic: सौरभ चौधरी फाइनल में, जगी पदक की उम्मीद

Aditya Mishra