featured यूपी

28 जून को छावनी में बदल जाएगा चारबाग स्टेशन, होंगे सुरक्षा के कड़े इंतजाम

28 जून को छावनी में बदल जाएगा चारबाग स्टेशन, होंगे सुरक्षा के कड़े इंतजाम

लखनऊ: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शुक्रवार को कानपुर पहुंचे, अगले कुछ दिन यहां अलग-अलग कार्यक्रमों में वह हिस्सा लेंगे। इसके बाद 28 जून को लखनऊ के चारबाग स्टेशन पर उनका आगमन होगा। इसी को देखते हुए रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं।

बंद हो जाएगा स्टेशन का मुख्य द्वार

चारबाग रेलवे स्टेशन में प्रवेश के लिए मुख्य द्वार 28 तारीख को बंद कर दिया जाएगा। इतना ही नहीं, प्लेटफार्म नंबर एक, दो और तीन पर किसी भी तरह की गाड़ियों का आवागमन नहीं होगा। प्लेटफार्म एक पर प्रेसीडेंशियल ट्रेन आएगी। अन्य दोनों प्लेटफार्म को सुरक्षा के नजरिए से खाली रखा जाएगा। मुख्य द्वार बंद होने के कारण यात्री पार्सल घर के माध्यम से स्टेशन के अंदर प्रवेश करेंगे। खबरों के अनुसार सुबह 11:50 पर ट्रेन चारबाग पहुंचेगी।

28 जून को छावनी में बदल जाएगा चारबाग स्टेशन, होंगे सुरक्षा के कड़े इंतजाम

एसी एक्सप्रेस होगी आखिरी ट्रेन

आगमन से पहले ही पूरे स्टेशन को सुरक्षा व्यवस्था के नजरिए से छावनी में बदल दिया जाएगा। सुबह 7:30 बजे एसी एक्सप्रेस जाने के बाद अन्य किसी भी ट्रेन का आगमन इन प्लेटफार्म पर नहीं होगा। प्लेटफार्म नंबर 1 से लेकर 3 तक सुरक्षाकर्मियों की नजर में होंगे, जबकि अन्य प्लेटफार्म पर सामान्य आवागमन जारी रहेगा। इस दौरान सभी यात्रियों की जांच पड़ताल की जाएगी।

शनिवार को होगा रिहर्सल

वीवीआईपी आगमन से पहले शनिवार 26 जून को चारबाग के प्लेटफार्म नंबर 1 पर रिहर्सल किया जाएगा। इस दौरान सभी सुरक्षा बल के जवान अपनी तैयारियों को दोबारा परखेंगे। किसी भी तरह की कमी होने पर उसे सुधारा जाएगा। कानपुर सेंट्रल स्टेशन से जब प्रेसीडेंशियल ट्रेन निकलेगी तो इसके आगे एक पायलट इंजन होगा।

अन्य किसी भी ट्रेन को आगे जाने की अनुमति नहीं होगी। सुबह 11:30 से लेकर दोपहर 12:00 बजे तक चारबाग के सभी प्लेटफार्म पूरी तरह से खाली रखे जाएंगे। मुख्य द्वार बंद होने के कारण यात्रियों के आवागमन के लिए अन्य रास्ते उपलब्ध करवाए जाएंगे, जिससे किसी भी तरह की परेशानी ना हो।

Related posts

सत्या एस त्रिपाठी संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण एजेंसी के सहायक महासचिव नियुक्त किये गए

rituraj

CGO कॉम्प्लेक्स में आग, सरकारी दफ्तर के सामान जलने की संभावना

bharatkhabar

जाने गुजरात के भावनगर के सारंगपुर में स्थित भव्य हनुमान मंदिर के बारे में

Rahul srivastava