featured देश बिज़नेस राज्य

केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, बनाए चार नए श्रम कानून, अब हाथों में कम आएगी सैलरी, पीएफ में ज्यादा कटेंगे पैसे

money 1 4 333 केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, बनाए चार नए श्रम कानून, अब हाथों में कम आएगी सैलरी, पीएफ में ज्यादा कटेंगे पैसे

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने एक बार फिर बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने अपने फैसले से नौकरी करने वाले लोगों को चौका दिया है। दरअसल केंद्र सरकार ने श्रम कानून में बड़े बदलाव किए है। सरकार के इस बदलाव के बाद से अब लोगों के हाथों में कम सैलरी आएगी। तो वहीं पीएफ में अधिक पैसे जाएंगे।

देश में इससे पहेल 29 श्रम कानून थे। लेकिन केंद्र सरकार ने कानून में बड़ा फेरबदल करते हुए 29 से सिर्फ 4 कानून कर दिए हैं। ये कानून हैं, व्यावसायिक सुरक्षा कानून, स्वास्थ्य और कार्य की स्थितियां, औद्योगिक संबंध और सामाजिक सुरक्षा कानून। सरकार द्वारा बदले गए कानून एक अप्रैल से लागू हो जाएंगे। उसके अगले ही माह यानिकी एक मई से इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा।

CTC और बेसिक सैलरी में अंतर क्या होता है ?

सबसे पहले आपको बतादें कि नौकरी करने वाले लोग दो बातों को अच्छे से जानते हैं। पहला CTC यानिकी कॉस्ट टू कंपनी और दूसरा हैंड सैलरी जो आपके हाथों में आती है।

1. CTC: CTC आपकी वो सैलरी होती है जो आपकी कुल सैलरी होती है। इसी सैलरी में आपकी बेसिक सैलरी के साथ ही हाउस रेंट, मेडिकल, ट्रांसपोर्ट, इंसेंटिव आदि को मिलाकर टोटल सैलरी तय की जाती है। जिसे हम CTC कहते हैं।

2. हैंड सैलरी: यानिकी वो सैलरी जो आपके हाथों में आती है। ये सैलरी CTC से कम होती है। पीएफ और इंश्योरेंस का पैस काट कर दिया जाता है। साथ ही कुछ और कटौती की जाती है। उसके बाद जो आपको पैसा मिलता है वो आपकी इन हैंड सैलरी होती है।

Related posts

यूपी ब्रेकिंग: एक जून से कोरोना लॉकडाउन में राहत, लखनऊ समेत 20 जिलों को नहीं मिलेगी छूट

Shailendra Singh

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी नेता के मामले में 10 POSs गिरफ्तार, हो सकती है पूछताछ

Rani Naqvi

राज्य पीडीएस का शत प्रतिशत डिजिटल भुगतान करें : पासवान

Anuradha Singh