featured बिज़नेस

केंद्र सरकार ने एनएससी और पीपीएफ समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर को बढ़ाई

ब्याज दर में बढ़ोतरी केंद्र सरकार ने एनएससी और पीपीएफ समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर को बढ़ाई

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी) और सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर अक्तूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.4 प्रतिशत तक बढ़ा दी है। लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दरों को तिमाही के आधार पर संशोधित किया जाता है। वित्तमंत्री ने जारी अधिसूचना में कहा कि वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के लिए विभिन्न लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें संशोधित की जाती हैं।

ब्याज दर में बढ़ोतरी केंद्र सरकार ने एनएससी और पीपीएफ समेत लघु बचत योजनाओं के लिए ब्याज दर को बढ़ाई

ब्याज दरें बढ़ाकर क्रमश: 7.8 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत कर दी गयी

बता दें कि पांच वर्ष की सावधि जमा, आवर्ती जमा और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दरें बढ़ाकर क्रमश: 7.8 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत कर दी गयी हैं। हालांकि बचत जमा के लिए ब्याज दर चार प्रतिशत बरकरार है। PPF (पीपीएफ) और एनएससी पर मौजूदा 7.6 प्रतिशत की जगह अब आठ प्रतिशत की सालाना दर से ब्याज मिलेगा।

112 सप्ताह में परिपक्व हो जाएगा

वहीं किसान विकास पत्र पर अब 7.7 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा और अब यह 112 सप्ताह में परिपक्व हो जाएगा। सुकन्या समृद्धि खातों के लिए संशोधित ब्याज दर 8.5 प्रतिशत होगी। एक से तीन साल की सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है।

Related posts

धरती पर इंसानों से पहले आये थे एलियन्स, आप भी सबूत देखकर सोचने पर हो जाएंगे मजबूर ..

Mamta Gautam

सावन के खत्म होते ही शुरू हो रहा भादों, भाद्रपद माह में भूलकर भी न करें ये काम..

Rozy Ali

रुद्रपुर: पुलिस कर्मियों के परिवार ने किया सरकार के खिलाफ प्रदर्शन, दी अंजाम भुगतने की चेतावनी

pratiyush chaubey