September 26, 2022 9:23 am
featured देश

कोरोना को लेकर फैलाई जा रही अफवाओं पर रोक लगाने के लिए केंद्र ने जारी की अडवाइजरी 

सोशल मीडिया कोरोना को लेकर फैलाई जा रही अफवाओं पर रोक लगाने के लिए केंद्र ने जारी की अडवाइजरी 

नई दिल्‍ली। कोरोना वायरस को लेकर तमाम सोशल मीडिया प्लेफार्मों पर फैल रही अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने कदम उठाने शुरू कर द‍िए हैं। अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने शनिवार को सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्मों को एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी में कहा गया है कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन यानी डब्‍ल्‍यूएचओ ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित करते हुए ग्‍लोबल इमरजेंसी जारी की है। इसको लेकर आम लोगों में कोई पैनिक न फैले इसलिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों को चाहिए कि वे अपने यूजर्स को सचेत करें कि वे गलत जानकारियां और फेक न्‍यूज पोस्‍ट नहीं करें…  

सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से कहा गया है कि वे अपने यूजर्स को बताएं कि कोरोना वायरस को लेकर किसी भी प्रकार की गलत जानकारियां या फेक न्‍यूज को ना तो अपलोड करें ना तो उनको शेयर करें। सरकार ने सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से कहा है कि वे ऐसे लोगों के अकाउंट को तत्‍काल प्रभाव से हटा दें या डिलीट कर दें जो कोरोना वायरस को लेकर भ्रामक और गलत जानकारियां साझा कर रहे हैं। सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से कहा गया है कि वे उन्‍हीं जानकारियों को प्रोमोट करें जो पुख्‍ता हों और सत्‍य हों… बता दें कि देश के कई हिस्‍सों में फेक न्‍यूज या गलत जानकारियां फैलाने के आरोप में कई लोगों पर पुलिस थानों में प्राथमिकियां भी दर्ज की गई हैं। 

एडवाजरी कोरोना को लेकर फैलाई जा रही अफवाओं पर रोक लगाने के लिए केंद्र ने जारी की अडवाइजरी 

कोरोना वायरस को लेकर आम लोगों की सभी शंकाओं का समाधान करने और फेक न्‍यूज के प्रसार को रोकने के लिए सरकार ने कई स्‍तरों पर पहकदमी की है। इसी का नतीजा है कि माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter ने Coronoavirus से जुड़ी गलत खबरों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। इसके अलावा Facebook ने भी गलत विज्ञापनों को अपनी साइट से हटा दिया है। ऐसे में अब सरकार भी अब सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक कर रही है। वहीं अब सरकार ने लोकप्रिय इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp पर Coronoavirus हेल्पलाइन नंबर जारी किया है ताकि लोगों को कोरोना वायरस के बारे में सही जानकारी उपलब्‍ध कराई जा सके। 

सरकार ने पहले ही लोगों से अपील कर चुकी है कि 1075 नंबर पर कॉल करके वे कोरोना से संबंधित सारी जानकारी ले सकते हैं। सरकार का कहना है कि ऐसा करके लोग अफवाहों से बच सकते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO ने शनिवार को व्हाट्सएप पर एक हेल्थ अलर्ट लॉन्च किया। इस पर 1.5 अरब से अधिक उपयोगकर्ता सवाल पूछ सकते हैं। इस ग्रुप पर नए कोरोनोवायरस कोविड-19 के बारे में 24 घंटे विश्वसनीय जानकारी दी जा रही हैं। यह जानकारी उन सरकारी अधिकारियों के लिए भी बड़े काम की हैं जो इस समय इस अभियान में लगे हुई हैं।

वाट्सअप की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि डब्लूएचओ हेल्थ अलर्ट से संपर्क करने के लिए अपने फोन में नंबर +41 79 893 1892 सेव करें, और फिर वाट्सअप संदेश में ‘हाय’ शब्द टेक्स्ट करें। हाय का संदेश भेजते ही तत्काल संकेतों के माध्यम से जानकारी लेने का संदेश आता है। हर सूचना के लिए एक खास इमोजी संकेत दिया गया है। जिसे भेजने पर उस विषय की सूचना भेज दी जायेगी। नवीनतम जानकारी दैनिक रूप से अपडेट की जाएगी।

Related posts

लालू के बाद तेजस्वी यादव ने किया नीतीश पर वार

Rani Naqvi

NITI Aayog Meeting: आज नीति आयोग की सातवीं संचालन परिषद की बैठक की अध्यक्षता पीएम मोदी, कई विषयों पर करेंगे चर्चा

Nitin Gupta

आसियान-भारत: थाईलैंड के पीएम से मिले मोदी, रक्षा, कारोबार, सांस्कृतिक पक्ष पर हुई बात

Rani Naqvi