September 21, 2021 5:20 pm
featured मध्यप्रदेश

मध्य प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों के खिलाफ रासुका के तहत केस दर्ज

मध्यप्रदेश मध्य प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों के खिलाफ रासुका के तहत केस दर्ज 

भोपाल. मध्य प्रदेश में कोरोना के अब तक 121 संक्रमित मिले हैं। इनमें से 89 मामले सिर्फ इंदौर में हैं। भोपाल और इंदौर में संक्रमितों की संख्या बढ़ने से सरकार यहां लॉकडाउन की अवधि नए नियमों के साथ बढ़ा सकती है। इंदौर में जांच करने पहुंचे स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हमला करने वाले 4 लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत केस दर्ज किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संकेत दिए थे कि कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई का विरोध करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी। वहीं, राज्य के अलग-अलग हिस्सों में लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले अल्पसंख्यक समुदाय के 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि शुक्रवार को भोपाल में एक आईएएस अफसर और चार जमातियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें 3 जमाती म्यांमार और एक ओडिशा के भुवनेश्वर का है। मुरैना में पति-पत्नी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर यहां कर्फ्यू लगा दिया गया है। ग्वालियर में मंगलवार रात 12 बजे से लागू किए टोटल लॉकडाउन को 4 अप्रैल तक बढ़ाया गया। प्रदेश में अब तक इंदौर 89, भोपाल-जबलपुर में 9-9, उज्जैन में 6, खरगोन में 1, ग्वालियर-शिवपुरी-मुरैना में 2-2 और छिंदवाड़ा में एक संक्रमित मिला। जबकि इंदौर 5, उज्जैन 2, खरगोन 1 की मौत हो चुकी है।

भोपाल: दो मस्जिदों के इलाके केंटोनमेंट घोषित

भोपाल में गुरुवार को ऐशबाग की रहमानिया मस्जिद और श्यामला हिल्स की अहाता रुस्तम खां मस्जिद के एक किमी क्षेत्र को कैंटोनमेंट (कोविड-19 इन्फेक्टेड एरिया) घोषित कर दिया है। श्यामला हिल्स के कैंटोनमेंट दायरे में सीएम हाउस भी आता है। इसके आसपास का पूरा क्षेत्र प्रतिबंधित घोषित कर दिया है। हालांकि शहर में कोरोना पॉजिटिव के जो भी मामले मिले हैं वे पुराने शहर के ही हैं। इसी वजह से प्रशासन ने शहर को सात जोन में बांटकर लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया है।

हेल्थ कॉर्पोरेशन के एमडी जे विजय कुमार संक्रमित

मध्य प्रदेश हेल्थ कॉर्पोरेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर और मध्य प्रदेश आयुष्मान भारत निरामयम सोसायटी के सीईओ जे विजय कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि, इसकी पुष्टि करने के लिए दोबारा जांच कराई जा रही है। कुमार 2011 बैच के आईएएस अफसर हैं। मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, वे चार-पांच दिन पहले ही प्रदेश के बाहर यात्रा करके लौटे थे। वापस आकर उन्होंने चार्ज भी संभाल लिया था। हालांकि, बुधवार को उन्होंने काम से दूरी बना ली थी। तबीयत खराब होने पर जांच में कोरोना वायरस के लक्षण मिले। गुरुवार देर रात जेपी अस्पताल पहुंचे। उनके संपर्क में आए स्टाफ को भी क्वारैंटाइन होने के लिए कहा गया है। 

शब-ए-बारात पर घर में ही इबादत करें: शहर काजी

भोपाल के काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने कहा है कि कोरोना के चलते लॉकडाउन का फैसला हमारी रक्षा के लिए है। मेरी बंदों से अपील है कि मस्जिदों के बदले जुमे की नमाज घर में ही अदा करें। मस्जिदों में सिर्फ इमाम-मुअज्जिन नमाज अदा करेंगे। आपात स्थिति में ही घर से बाहर निकलें। नदवी ने कहा- कुछ दिन बाद शब-ए-बारात है। इस दिन भी सभी बंदे घर में रहकर इबादत करें। उन्होंने कहा- अपने पूर्वजों की आत्मा को स्वर्ग में श्रेष्ठ स्थान मिले, इसके लिए भी घर में रहकर इबादत और दुआ करें। उन्होंने तब्लीगी जमात विषय पर स्पष्ट किया कि भोपाल में लॉकडाउन के चलते जितनी भी जमातें ठहरी हैं, उनकी सूचना प्रशासन को दे दी गई है।

Related posts

धरती को निगल जाएगा ब्लैक होल ?

Rozy Ali

गोपाल कृष्ण गांधी बने विपक्ष के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार

Pradeep sharma

लखनऊ: मानसून सत्र से पहले काशी को सौगात दे सकते हैं प्रधानमंत्री मोदी

Shailendra Singh