delhi 1 राजधानी दिल्ली- एनसीआर में रात भर पड़ी बारिश से दिल्ली वासियों को प्रदूषण से मिली राहत

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली और एनसीआर में शुक्रवार रात भारी बारिश हुई। इससे ठंड बढ़ गई है। अब एनसीआर के साथ-साथ पूरे उत्तर भारत में सर्दी बढ़ गई है। ऐसा जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भारी बर्फबारी की वजह से हुआ है। बता दें कि गुरुवार रात को पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से शहर में तेज ठंडी हवाओं और बिजली कड़कने के साथ रातभर बारिश हुई। कई जगहों पर ओले भी पड़े। इससे ठंड बढ़ गई। फिलहाल तापमान 14 डिग्री के आसपास है। यह 15 दिसंबर तक गिरकर 10 डिग्री से नीचे जा सकता है।

प्रदूषण कुछ हद तक कम

पराली जलने की घटनाएं कम होने के बावजूद दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण बना हुआ था। गुरुवार दोपहर तक यह गंभीर स्थिति में था। अब शनिवार सुबह हवा बेहद खराब है। बता दें कि मौसम विभाग ने पहले ही 12 और 13 दिसंबर को बारिश की संभावना जताई थी। आज भी आसमान में बादल छाए हुए हैं, बारिश की पूरी संभावना है।

बढ़ेगी ठंड और कोहरा

15 और 16 दिसंबर को घना कोहरा देखने को मिल सकता है और न्यूनतम तापमान महज 8 डिग्री रहने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार से न्यूनतम तापमान में गिरावट आना शुरू हो जाएगी। वहीं अधिकतम तापमान अब 20 से 21 डिग्री के बीच बना रहेगा। ऐसे में दिन में ठिठुरन का अहसास होगा। शुक्रवार को बारिश होगी और तेज हवाएं चलेंगी। ओले भी पड़ने की संभावना है।

100 उड़ानों पर असर

खराब मौसम ने आईजीआई एयरपोर्ट पर भी एयर ट्रैफिक पर असर डाला। बताया जाता है कि इस वजह से यहां से आने-जाने वाली करीब 100 फ्लाइट डिले हुईं। इनमें से कुछ के रूट भी बदलने पड़े। हालांकि, डायल का कहना है कि गुरुवार सुबह विजिबिलिटी थोड़ी कम जरूर हुई थी। लेकिन इसने एयर ट्रैफिक का रास्ता नहीं रोका था। गुरुवार शाम को विजिबिलिटी गिरने की वजह से फ्लाइट डिले तो हुई लेकिन इस कारण किसी फ्लाइट को कैंसल नहीं करना पड़ा। गुरुवार शाम को खराब मौसम का अधिक असर डोमेस्टिक एयर ट्रैफिक पर पड़ा। देश के विभिन्न शहरों से दिल्ली आने वाली फ्लाइट को 15 मिनट से लेकर आधा घंटे तक की देरी से यहां लैंड कराया गया, जबकि काफी फ्लाइट ऐसी थीं जिन्हें आसपास के हवाईअड्डों पर भेज दिया गया।

IGI एयरपोर्ट पर बिजली गिरी, 2 यात्री जख्मी

दिल्ली एयरपोर्ट के T3 के बाहर रात करीब 9:15 बजे आसमानी बिजली गिरने से 2 यात्री गंभीर रूप से जख्मी हो गए। सूत्रों के मुताबिक, इनमें एक विदेशी है। दोनों को मेदांता हॉस्पिटल ले जाया गया है। एक की हालात नाजुक बताई जा रही है। बिजली गिरने से दोनों वहीं बेहोश हो गए थे।

पहाड़ों में हुई बर्फबारी

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बुधवार को मध्यम बर्फबारी हुई थी, वहीं श्रीनगर और जम्मू के मैदानी हिस्सों में गुरुवार दोपहर से ही बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि जम्मू कश्मीर एवं लद्दाख केंद्र शासित प्रदेशों में गुरुवार और शुक्रवार के लिए ‘ऑरेंज चेतावनी’ जारी की गई, जिसका मतलब है कि वहां मध्यम बर्फबारी और बारिश हो सकती है। उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग, दक्षिण कश्मीर के पहलगाम और मध्य कश्मीर के सोनमर्ग और अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्रों में मध्यम बर्फबारी हुई।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    नेहरू ऑडिटोरियम में ऊर्जा संरक्षण दिवस के अवसर पर 14 दिसम्बर को आयोजित होगा राज्य स्तरीय कार्यक्रम

    Previous article

    ‘मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना’ के लिये रेल मंत्रालय से जल्द मिलेंगीं ट्रेनें: मनीष सिसोदिया

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured