pain, girls, calcium, 20 percent,
legs

नई दिल्ली। महिलाओं में कैल्शियम की कमी एक आम समस्या बनती जा रही है यह खानपान की बदलती आदतों के कारण हो रहा है खासकर शहरी महिलाओं में पिछले कुछ दशकों में खानपान संबंधी आदतों में बड़ा बदलाव आया है। एक ताजा अध्ययन के अनुसार 14 से 17 साल के आयु के वर्ग की लगभग 20 प्रतिशत लड़कियों में कैल्शियम की कमी पाई गई है डॉक्टरों का कहना है कि लोग पैकेट फूड पर तेजी से निर्भर होते जा रहे हैं जिस कारण शरीर को संतुलित भोजन नहीं मिल रहा है जरुरी है कि कैल्शियम की मात्रा डाइट से लें न कि सप्लीमेंट के जरिए इसे पूरा करने की कोशिश करें।

pain, girls, calcium, 20 percent,

legs

बुजुर्ग महिलाओं की तुलना में लड़कियों को कैल्शियम की ज्यादा जरूरत होती है। 9 से 18 साल आयु वर्ग की लड़कियों को 1300 मिलीग्राम कैल्शियम की जरूरत होती है, जबकि 19 से 50 साल की महिलाओं को 1000 मिलीग्राम कैल्शियम की जरुरत होती है। 50 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को 1200 मिलीग्राम कैल्शियम की जरूरत होती है।

डॉक्टर की मानें तो विटामिन डी ब्लड में कैल्शियम के स्तर को नियंत्रण करने के लिए जिम्मेदार है निटामिन डी का पर्याप्त सेवन कैल्शियम की क्षमता को बेहतर करता है हड्डियों को खराब होने से बचाता हैं।

सुषमा ने की इराक के विदेश मंत्री से मुलाकात, मोसुल में गायब भारतीयों पर देंगी जवाब

Previous article

कर्जमाफी की मांग कर रहे तमिलनाडु के किसान ने की आत्महत्या की कोशिश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.