बिज़नेस

अब मुकेश अंबानी के नहीं होंगे ‘बिग बाजार’ स्टोर, डील से पीछे हटी रिलायंस

relince अब मुकेश अंबानी के नहीं होंगे 'बिग बाजार' स्टोर, डील से पीछे हटी रिलायंस

रिलायंस इंडस्ट्रीज और फ्यूचर ग्रुप के बीच का सौदा अब खत्म हो गया है। रिलायंस ने जानकारी दी कि फ्यूचर ग्रुप के साथ 24713 करोड़ रुपए का सौदा अब आगे नहीं बढ़ सकता है।

यह भी पढ़े

12वीं के बाद मिलेगा बेहतरीन प्लेसमेंट, शानदार होगी सैलरी

 

कंपनी ने बताया है कि ग्रुप के सिक्योर्ड क्रेडिटल्स ने इसके खिलाफ वोट किया है। इसका मतलब यह हुआ कि फ्यूचर ग्रुप की फ्यूचर रिटेल को खरीदने के लिए रिलायंस की खुदरा यूनिट्स के बीच जो 24713 करोड़ रुपए का सौदा हुआ था, वह खारिज हो चुका है।

R अब मुकेश अंबानी के नहीं होंगे 'बिग बाजार' स्टोर, डील से पीछे हटी रिलायंस

 

रिलायंस ने रेगुलेटरी फाइलिंग में यह जानकारी दी है। मुकेश अंबानी के मालिकाना हक वाली कंपनी के मुताबिक फ्यूचर ग्रुप की फ्यूचर रिटेल और अन्य लिस्टेड कंपनियों ने अपने शेयरधारकों व क्रेडिटर्स से डील पर मुहर लगाने का प्रस्ताव रखा था। हालांकि यह प्रस्ताव खारिज हो गया।

mukesh ambani अब मुकेश अंबानी के नहीं होंगे 'बिग बाजार' स्टोर, डील से पीछे हटी रिलायंस

फ्यूचर रिटेल लिमिटेड के सिक्योर्ड क्रेडिटर्स ने डील के खिलाफ अपना वोट किया था, जिसके बाद शनिवार को रिलायंस ने इस सौदे से कदम पीछे हटा लिए हैं। फ्यूचर ग्रुप को कर्ज देने वाले क्रेडिटर्स ने रिलायंस इंडस्ट्रीज और फ्यूचर रिटेल असेट के बीच 24,730 करोड़ रुपए के सौदे को खारिज कर दिया था। इस बैठक में सरकारी बैंक के एक अधिकारी ने कहा था कि रिलायंस द्वारा रखी गई अरेंजमेंट स्कीम के खिलाफ सभी क्रेडिटर्स ने वोट किया था।

relince अब मुकेश अंबानी के नहीं होंगे 'बिग बाजार' स्टोर, डील से पीछे हटी रिलायंस

फ्यूचर ग्रुप ने अगस्त 2020 में रिलायंस ग्रुप की कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) के साथ 24,713 करोड़ रुपए के विलय समझौते की घोषणा की थी। इस समझौते के तहत खुदरा, थोक, लॉजिस्टिक एवं भंडारण खंडों में सक्रिय फ्यूचर ग्रुप की 19 कंपनियों का रिलायंस रिटेल अधिग्रहण करने वाली थी।

डील पर क्या विवाद?

साल 2019 में अमेजन ने 1500 करोड़ रुपए में फ्यूचर कूपन में 49% हिस्सेदारी खरीदी थी। इस डील के तहत अमेजन को 3 से 10 साल के भीतर फ्यूचर रिटेल में हिस्सेदारी खरीदने का भी अधिकार मिला था। लेकिन 2020 में फ्यूचर ग्रुप ने अपने रिटेल, होलसेल और लॉजिस्टिक्स बिजनेस को रिलायंस रिटेल को 24,713 करोड़ रुपए में बेचने की घोषणा की। इसी के बाद से ये विवाद शुरू हुआ।

 

Related posts

क्या जियो पर एयरटेल और आइडिया पडे़गा भारी?

Anuradha Singh

गूगल ने दी म्यूजिक लवर्स को ये सौगात, 89 रूपए में महीने भर सुनिए पसंदीदा गाने

Anuradha Singh

MX Player पर जल्द शुरू होगा बेवसीरीज आश्रम का सीजन 2, दिखेगी बाबा निराला की करतूत

Trinath Mishra