January 24, 2022 3:17 pm
featured दुनिया देश

ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो हुए कोरोना पॉजिटिव, भारत में आंकड़ा 7 लाख के पार

brazils prisident ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो हुए कोरोना पॉजिटिव, भारत में आंकड़ा 7 लाख के पार

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 7 लाख 23 हजार 186 हो गई है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले हैं। वहां यह आंकड़ा 2,11,987 पहुंच गया है।

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 7 लाख 23 हजार 186 हो गई है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले हैं। वहां यह आंकड़ा 2,11,987 पहुंच गया है। दूसरे नंबर पर तमिलनाडु और तीसरे पर दिल्ली हैं। इन दोनों ही राज्यों में संक्रमितों की संख्या एक लाख से ज्यादा है। गुजरात चौथे नंबर पर है। वहां अब तक 36 हजार 858 संक्रमित पाए गए हैं। उत्तर प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 29968 हो गई है। वह इस सूची में पांचवें नंबर पर है।

इस बीच, कोरोना वायरस संक्रमितों देशों में दूसरे नंबर पर चल रहे ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बोलसोनारो ने मंगलवार को खुद यह जानकारी दी। हालांकि, उन्होंने कहा कि वह 8216 बिल्कुल ठीक हैं। उनमें मामूली लक्षण नजर आए हैं। बता दें कि 65 साल के बोलसोनारो ने देश की अर्थव्यवस्था को दोबारा पटरी पर लाने के लिए अपनी सभा के दौरान इसे सिर्फ एक आम फ्लू बताया था। उन्होंने मास्क के बिना भीड़भाड़ वाली जगहों पर नहीं जाने की मेडिकल गाइडलाइंस की भी अनदेखी की थी। वह लोगों से हाथ भी मिला रहे थे।

देश की बात करें तो पश्चिम बंगाल सरकार ने मंगलवार को सूबे के सभी कंटेनमेंट जोन में 9 जुलाई से पूरी तरह से लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया। इसका मतलब है कि इन इलाकों में आने वाली सभी दुकानें, सभी कार्यालय (निजी और सरकारी) सब कुछ बंद रहेंगे। इन इलाकों से पब्लिक ट्रांसपोर्ट (सार्वजनिक परिवहन) भी नहीं गुजरेंगे।

https://www.bharatkhabar.com/rajasthan-board-will-release-the-result-today-at-4-pm/

झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और उन्हें मंगलवार देर रात यहां राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में भर्ती कराया गया। रिम्स के प्रवक्ता ने बताया कि ठाकुर मंगलवार शाम संक्रमित पाये गये जिसके बाद उन्हें रिम्स में भर्ती कराया गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि प्रति दस लाख की आबादी पर भारत में ठीक होने वाले मरीज प्रति दस लाख की आबादी पर इलाज करा रहे मरीजों से ज्यादा हैं। इसने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कोरोना वायरस के मामलों की जल्दी पहचान करने और प्रभावी प्रबंधन करने का श्रेय दिया। मंत्रालय ने बयान में कहा कि भारत में प्रति दस लाख पर ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 315.8 है जबकि देश में प्रति दस लाख की आबादी पर इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 186.3 है।

Related posts

अमेरिका में योग्य लोग ही आएं नहीं चाहिए कचरा- राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

mahesh yadav

स्मृति ईरानी का राहुल को पलटवार, ‘ऐ सत्ता की भूख -सब्र कर, आँकड़े साथ नहीं तो क्या’

Pradeep sharma

अब “काम बोलता है” नहीं बल्कि ये होगा समाजवादी पार्टी का स्लोगन

shipra saxena