प्यार में धोखा खाकर युवक ने दी जान, खुदकुशी का लाइव वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

उत्तर प्रदेश के मेरठ का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर किसी के भी होश उड़ जाएंगे। मेरठ के रहने वाले एक युवक ने लव, सेक्स के बाद धोखा और ब्लैकमेलिंग के चक्रव्यूह में फंसकर अपनी जान दे दी। उसने अपने सुसाईड का एक लाइव वीडियो भी बनाया जिसमें उसने कई चौंकाने वाले खुलासे भी किए हैं, जिंन्हें सुनकर आफ भी सन्न रह जाएंगो।

 

प्रतीकात्मक तस्वीर

 

मेरठ के जानी क्षेत्र का रहने वाला प्रतीक दिल्ली में रहकर SSC की पढ़ाई कर रहा था। ताकि पढ़ लिखकर एक अच्छी नौकरी पा सके और अपने घर का नाम रोशन कर सके। लेकिन प्रतीक  के इन सपनों पर उस समय ग्रहण लग गया जब उसी के गांव की रहने वाली  लड़की प्रियंका भी दिल्ली पहुंच गई। दोनों एक ही गांव के रहने वाले थे  तो उनका मिलना जुलना काफी बढ़ गया और बात प्यार में तक पहुंच गई और फिर बात सेक्स तक पहुंच गई। लेकिन इन दोनों के बीच जिस्मानी रिश्तो की खबर बबलू नाम के शख्स को लग गई। जिसने पहले इन दोनों को ब्लैकमेल किया। ब्लैक मेलिंग के दौरान प्रतीक ने प्रियंका की इज्जत बचाने की खातिर बबलू को डेढ़ लाख रूपय की रकम दे डाली। लेकिन बाद में प्रतीक को पता चला कि ब्लैक मेलिंग के इस  खेल में बबलू के साथ प्रियंका भी शामिल है। जिससे प्रतीक बुरी तरह से टूट गया और उसने मौत को गले लगाने की ठान ली। लेकिन मौत को गले लगाने के साथ-साथ प्रतीक ने उन लोगों को भी सजा दिलाने का इंतजाम कर डाला जिन्होंने उसे इस मुकाम तक पहुंचा दिया। प्रतीक ने अपने सुसाइड का लाइव वीडियो बनाया जिसमें उसने बबलू और प्रियंका के द्वारा रची गई साजिश का खुलासा कर दिया। साथ ही जो रकम उसके घर वालों ने उसकी पढ़ाई के लिए भेजी थी वह उसने ब्लैक मेलिंग के चक्रव्यूह में फंसकर बबलू को दे डाली थी। इस कारण घरवालों की निगाहों में भी शर्मिंदगी से बचने के लिए उसने मौत को गले लगा लिया।

 

 

 

प्रतीक की मौत के बाद दिल्ली पुलिस ने इसे महज सुसाइड मानकर ठंडे बस्ते में डाल दिया। लेकिन घरवाले चाहते हैं कि प्रतीक को मौत के लिए उकसाने वाले लोगों को भी सजा मिले। परिजनों की मानें तो  बबलू प्रतीक को स्मगलिंग के केस में फंसाने और जान से मारने की धमकी दे रहा था। इसलिए उन्होंने आज मेरठ एसएसपी कार्यालय में जाकर इंसाफ की गुहार लगाई। लेकिन यहां भी उन्हें SSP नहीं मिल सके। ना ही किसी आला अधिकारी ने उनकी गुहार सुनी। परिजनों की मांग है कि ब्लैक मेलिंग करने और हत्या के लिए उकसाने वाले लोगों को सख्त से सख्त सजा मिले तभी उनके बेटे की आत्मा को शांति मिलेगी