निकाय चुनावःआचार संहिता के बीच PM की केदारनाथ यात्रा अब कांग्रेस के निशाने पर

उत्तराखंडः सूबे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल 7 तारीख को केदारनाथ में दर्शन और पूजन के कार्यक्रम के उद्देश्य से केदारधाम पहुंच रहे हैं।इन दिनों सूबे में स्थानीय निकाय चुनाव का पारा गरम है। भारतीय जनता पार्टी इस चुनाव को लोकसभा का प्री-एक्जॉमिनेशन मान रही है।इस लिहाज से ये चुनाव वो अपनी प्रतिद्वन्दी पार्टी कांग्रेस से जीतना चाह रही है।

 

निकाय चुनावःआचार संहिता के बीच PM की केदारनाथ यात्रा अब कांग्रेस के निशाने पर
निकाय चुनावःआचार संहिता के बीच PM की केदारनाथ यात्रा अब कांग्रेस के निशाने पर

इसे भी पढ़ेःकेदारनाथ धामः मुख्य सचिव ने किया निर्माणाधीन कार्यो का निरीक्षण

प्रधानमंत्री के केदारनाथ यात्रा में आने से कांग्रेस के निशाने पर पीएम का दौरा और भाजपा दोनों ही आ गए हैं।कांग्रेस का मानना है कि पीएम का चेहरा दिखाकर भाजपा निकाय चुनाव जीतने की कोशिश कर रही है।कांग्रेस पार्टी इस बात को लेकर चुनाव आयोग जाएगी। इन सभी मुद्दों को लेकर कांग्रेस के पूर्व विधायक और वरिष्ठ नेता हीरा सिंह बिष्ट ने भारत खबर की खास बातचीत में जानकारी दी।

इसे भी पढ़ेःफिल्म केदारनाथ के ट्रेलर और फिल्म को सीएम रावत ने दिया ग्रीन सिगनल

विधायक हीरा सिंह विष्ट ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के आने कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है, चाहे वह एक महीना क्यों न उत्तराखंड में रहें। लेकिन उन्होंने कहा कि पीएम का यह दौरा कहीं न कहीं है सिर्फ निकाय चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश। उन्होंने कहा कि पीएम ऐसा करके अपने गरिमा को दाव में लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की सरकार पूरी तरह फेलियर है इसीलिए पीएम को चिंता है कि वह निकाय चुनाव को किसी तरह से एक- दो सीटों पर जीत दर्ज करके अपनी शाक बचा सकें।

PM चुनाव आयोग के नियमों का उल्लंघन कर उत्तराखंड आ रहे है..

विधायक ने कहा कि पीएम चुनाव आयोग के नियमों का उल्लंघन करके प्रदेश के दौरे में आ रहे हैं। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए क्योंकि स्थानीय चुनाव को लेकर राज्य में आचार संहिता लागू है। हीरा सिंह ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि अगर पीएम चुनाव आयोग की शर्तों को नजरअंदाज करकें सूबे में योजनाओं का लोकार्पण करते हैं तो कांग्रेस चुनाव आयोग जाएगी।

विधायक ने  प्रदेश की अव्यवस्थाओं का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार  कर्मचारियों की  समस्याओं को  कोर्ट में घसीट रही है। युवा सरकार से परेशान हैं और मौजूदा सरकार की छवि जनता की नजर में बेहद खराब है। इसलिए पीएम का चेहरा दिखाकर निकाय चुनाव को प्रभाीवित करने के लिए यह कार्यक्रम हो रहा है।

महेश कुमार यादव