featured Breaking News देश

भाजपा के साथ गठबंधन से शिवसेना का नुकसान हुआ: उद्धव

Udhav Thakre भाजपा के साथ गठबंधन से शिवसेना का नुकसान हुआ: उद्धव

मुंबई। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा कि भाजपा के साथ 25 वर्षों के गठबंधन के दौरान पार्टी को काफी नुकसान हुआ। दोनों पार्टियों का गठबंधन साल 2014 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले टूट गया। ठाकरे ने कहा, “25 वर्षो या कम से कम दो पीढ़ियों तक हम एक दूसरे को पकड़े रहे और आगे बढ़ते रहे। हम अपने दम पर काफी पहले सत्ता में आ सकते थे, लेकिन भाजपा के साथ इस गठबंधन से हमें काफी नुकसान हुआ।”

Udhav Thakre

उन्होंने कहा कि उस समय गठबंधन मजबूरी रही होगी, ‘लेकिन शिवसेना अगर अकेले चली होती तो अभी तस्वीर बिल्कुल अलग होती।’

शिवसेना के मुख पत्र सामना (मराठी) और दोपहर का सामना (हिन्दी) में मंगलवार को उद्धव ठाकरे के 56वें जन्मदिन से पहले छपे उनके साक्षात्कार में उन्होंने कार्यकारी संपादक और सांसद संजय राउत से यह बात कही। ठाकरे का जन्मदिन बुधवार को है। उन्होंने कहा कि एक समय था जब राज्य के सभी बड़े नेता और जनता तत्कालीन शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे के साथ थे, लेकिन ‘दुर्भाग्यवश 25 वर्षो के गठबंधन में हमें नुकसान हुआ।’

उन्होंने कहा कि यह विचारधाराओं का एक गठबंधन था और बाल ठाकरे ने अल्पकालीन लाभ को देखे बिना गठबंधन किया था। उद्धव ने कहा, “बाल ठाकरे कभी सत्ता के भूखे नहीं रहे। वह केवल हिन्दू वोट को बंटने से रोकने को लेकर चिंतित थे, लेकिन अब भाजपा ने गठबंधन तोड़ दिया।”

उन्होंने कहा कि भाजपा ने जब अपना 25 वर्षो का गठबंधन तोड़ लिया तो शिव सेना ने 2014 का विधानसभा चुनाव अकेले लड़ा, लेकिन तैयारी के लिए सिर्फ दो सप्ताह मिले थे, अन्यथा स्थिति भिन्न होती।

(आईएएनएस)

Related posts

जानें क्या हुआ था जब आज के दिन चांद पर इंसान ने पहली बार रखा था कदम? खुला रहस्य

Rozy Ali

कैशलेस बनने पर अब मिलेगा एक करोड़ तक का ईनाम

Rahul srivastava

डोकलाम विवाद: कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, राष्ट्र की सुरक्षा खतरे में

Pradeep sharma