featured उत्तराखंड देश राज्य

BJP प्रदेश मीडिया प्रमुख ने मोदी सरकार के 10 % आरक्षण के फैसले की सराहना की

मोदी का 10 फीसदी आरक्षण का फैसला BJP प्रदेश मीडिया प्रमुख ने मोदी सरकार के 10 % आरक्षण के फैसले की सराहना की

देहरादूनः भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ देवेंद्र भसीन ने गत दिवस यानी की सोमवार को कांग्रेस व अन्य विपक्षी दलों द्वारा ग़रीब स्वर्णों को दस प्रतिशत आरक्षण देने के मोदी सरकार के निर्णय की आलोचना को उनकी ख़िसियाहट बताया। भसीन ने कहा कि यह इन दलों की जन विरोधी सोच का प्रमाण है।

मोदी का 10 फीसदी आरक्षण का फैसला BJP प्रदेश मीडिया प्रमुख ने मोदी सरकार के 10 % आरक्षण के फैसले की सराहना की
BJP प्रदेश मीडिया प्रमुख ने मोदी सरकार के 10 % आरक्षण के फैसले की सराहना की

 

इसे भी पढ़ें-उत्तर प्रदेश सरकार करेगी मधु शर्मा का सम्मान

डॉ भसीन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में आज केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने ग़रीब स्वर्णों को नौकरियों व शिक्षा में दस प्रतिशत आरक्षण का निर्णय लिए जाने पर उत्तराखंड सहित राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस व अन्य विपक्षी नेताओं द्वारा जिस तरीक़े से प्रतिक्रिया दी जा रही है उससे साफ़ है कि ये दल बौखला गए हैं और उन्हें लग रहा है कि प्रधानमंत्री जी जिस प्रकार ‘सबका साथ सबका विकास’ के अपने सिद्धांत के अनुरूप कार्य कर रहे हैं और उनकी लोक प्रियता जिस तेज़ी से बढ़ती जा रही है अगले लोक सभा चुनाव में विपक्ष की हालत 2014 से भी बुरी होने वाली है।

भसीन ने कहा कि कांग्रेस के उत्तराखंड के एक बड़े नेता के उस बयान को हास्यास्पद बताया कि मोदी जी कुछ भी कर लें वे चुनाव नहीं जीतेंगे । जबकि सच्चाई यह है कि अगले चुनाव में एनडीए को शानदार सफलता मिलेगी और अकेले भाजपा को तीन सौ से अधिक सीटें मिलेंगी।

इसे भी पढ़ें-सीएम रावत ने मीडिया सेंटर में इंवेस्टर्स समिट की पूरी हुई तैयारियों के बारे में बताया

आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार ने सवर्ण जातियों को आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण देने की घोषणा की है। इसके तहत आर्थिक रूप से कमजोर सवर्ण लोगों को सरकारी नौकरियों में 10 फीसदी आरक्षण दिया जाएगा। सरकार ने आज संविधान संशोधन प्रस्ताव संसद में पेश किया है। मालूम हो कि वर्तमान में लागू आरक्ष व्यवस्था से अलग है ये सवर्ण आरक्षण। संविधान के वर्तमान नियमों के अनुसार देखा जाए तो आर्थिक आधार पर आरक्षण का रास्ता काफी जटिल है। यदि दोनों सदनों में यह प्रस्ताव पास हो जाता है तो गरीब सवर्णों को आरक्षण आर्थिक आधार पर दिया जाएगा।

Related posts

Aaj Ka Rashifal: शुक्रवार को बदलेगी इन राशियों की किस्मत, जानें आपके लिए क्या है खास

Rahul

अमन विहार इलाके में घर में घुसे संदिग्ध चोर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई

Rani Naqvi

जानिए देश में आर्थिक सुधार का दरवाजा खोलने वाले मनमोहन सिंह के बारे में

shipra saxena