BJP
J. P. Nadda

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जे पी नड्डा ने बहुप्रतीक्षित राज्यों के प्रभारियों की घोषणा कर दी हैं. पूर्व महासचिव राम माधव और अनिल जैन को किसी राज्य का प्रभार नहीं दिया गया हैं. जबकि पूर्व महासचिव मुरलीधर राव को महत्वपूर्ण मध्य प्रदेश का प्रभार देकर पुनर्वास किया गया हैं.

भूपेंद्र यादव की हैसियत मजबूत

नए प्रभारियों की लिस्ट में महासचिव भूपेंद्र यादव का नाम शामिल हैं. उन्हें एक बार फिर से बिहार और गुजरात का प्रभारी बनाया गया हैं. जबकि दूसरे महासचिव अरुण सिंह से ओड़िशा का प्रभार ले लिया गया लेकिन उन्हें कर्नाटक और राजस्थान जैसे अहम राज्यों का प्रभार दिया गया हैं.

कैलाश विजयवर्गीय पर ही बनी रहेगी पश्चिम बंगाल की कमान

पार्टी शासित हरियाणा का प्रभार अभी तक अनिल जैन संभालते रहे थे. अब ये जिम्मेदारी महाराष्ट्र के कद्दावर नेता विनोद तावड़े को दी गई हैं. पश्चिम बंगाल BJP के लिए फिलहाल सियासी तौर पर सबसे महत्वपूर्ण राज्य हैं. जे पी नड्डा ने एक बार फिर बंगाल का प्रभार पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को दिया हैं.

अगले साल होने हैं पश्चिम बंगाल में चुनाव

पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा का चुनाव होना हैं और गृह मंत्री अमित शाह खुद बंगाल पर नजर रखे हुए हैं. कैलाश विजयवर्गीय ने आलाकमान की रणनीति को अमली जामा पहनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रखी हैं.

राधा मोहन सिंह को दी यूपी की कमान

इसी तरह पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह को BJP शासित सबसे बड़े राज्य यूपी का प्रभारी बनाया गया हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह  के साथ 3 सह प्रभारी भी रहेंगे. इनमे सुनील ओझा, सत्या कुमार और बिहार से विधायक संजीव चौरसिया हैं. इस बार दिल्ली का प्रभारी जिसे बनाया गया है वो पहले बीजेडी में थे. जी हां, बीजेपी उपाध्‍यक्ष विजयंत पांडा को दिल्ली का प्रभारी बनाया गया हैं. पांडा को असम की भी कमान सौपी गई हैं.

दुष्यंत गौतम को पंजाब की जिम्मेदारी

पार्टी के एक और महासचिव दुष्यंत गौतम को पंजाब, चंडीगढ़ और उत्तराखंड का प्रभारी बनाया गया हैं. पंजाब में अकाली दल से अलग होने के बाद पार्टी को पूरे राज्य में संगठन मजबूत करने का अवसर मिला हैं. अब ये काम दुष्यंत के लिए काफी चुनौती भरा होगा. हाल के उपचुनाव में तेलंगाना में BJP ने बेहतर नतीजे लाये हैं. पार्टी महासचिव तरुण चुग को अब इस राज्य का नया प्रभारी बनाया गया हैं. उनके पास लद्दाख और जम्मू-कश्मीर का भी प्रभार रहेगा. जम्मू कश्मीर को अभी तक राम माधव देखा करते थे. लेकिन जे पी नड्डा की नई टीम में उनको जगह नहीं मिली हैं.

सीटी रवि को तीन राज्यों का प्रभार

नड्डा की टीम में पहली बार राष्ट्रीय पटल पर आये पार्टी महासचिव सी टी रवि को 3 राज्यों की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिली है. सी टी रवि को महाराष्ट्र, गोवा और तमिलनाडु का प्रभारी बनाया गया है. महाराष्ट्र में पार्टी को सत्ता में वापस लाने और संगठन में विस्तार की चुनौती होगी सी टी रवि के लिए.

डी पुरुन्देश्वरी को छत्तीसगढ़, ओडिशा का प्रभार

पार्टी महासचिव डी पुरुन्देश्वरी को छतीसगढ़ और ओड़िशा का प्रभार दिया गया हैं. छत्‍तीसगढ़ का प्रभार अभी तक अनिल जैन के पास था जबकि ओडिशा का प्रभार अरुण सिंह के पास था. पुरुन्देश्वरी के लिए छतीसगढ़ में हार से हताश पार्टी संगठन को फिर से पटरी पर लाना होगा. इसी तरह उन्हें ओडिशा में ताकतवर नवीन पटनायक के करिश्मे की काट ढूंढनी होगी.

पूर्वोत्तर के राज्यों में राम माधव की अभी तक सुनी जाती रही हैं. लेकिन अब अलग अलग राज्यों के प्रभारी सीधे केंद्रीय नेतृत्व को रिपोर्ट करेंगे. नगालैंड पहले की तरह पार्टी प्रवक्ता नलिन कोहली देखते रहेंगे. जबकि दूसरे प्रवक्ता संबित पात्रा को पहली बार संगठन की जिम्मेदारी मिली हैं. संबित पात्रा को मणिपुर का प्रभारी बनाया गया हैं.

इसके अलावा बिहार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों की जिम्मेदारी संभालने वाले पार्टी सचिव सत्या कुमार को अंडमान निकोबार का प्रभारी बनाया गया हैं. जबकि आंध्र प्रदेश की जिम्मेदारी वी मुरलीधरन संभालेंगे.

BJP मोर्चे के प्रभारियों की भी घोषणा

नड्डा ने मोर्चे के प्रभारियों की भी घोषणा की है. सबसे महत्वपूर्ण युवा मोर्चा के प्रभारी होंगे तरुण चुग. जबकि सियासी तौर पर सबसे अहम अन्य पिछड़ा वर्ग मोर्चे का प्रभार अरुण सिंह को सौंपा गया है. भूपेंद्र यादव को किसान मोर्चा का प्रभारी बनाया गया है. जबकि दुष्यंत गौतम को महिला मोर्चा का प्रभारी बनाया गया है.

कार्यकारिणी की घोषणा होनी बाकी

इसी के साथ BJP अध्यक्ष ने अपनी पूरी टीम की लगभग घोषणा कर दी हैं. हालांकि अभी भी कार्यकारिणी की घोषणा होनी बाकी हैं. उस समय ही पता चलेगा कि शक्तिशाली पार्टी संसदीय बोर्ड में किस किसको शामिल किया गया. अभी इस समय संसदीय बोर्ड में 4 जगह खाली हैं. इसमें जिसे भी जगह मिलेगी, उसकी सियासी हैसियत अन्यों से ज्यादा हो जाएगी. इस घोषणा के बाद ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि देर सबेर मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार भी हो सकता हैं.

शिवसेना का नीतीश-BJP पर तंज, कहा- युवा नेता तेजस्वी के सामने नहीं टिक पाए

Samar Khan
This is a Samar Khan. Currently working with BharatKhabar.com. Skilled media professional with nearly 2 years of experience in News Broadcasting media. Strong communication skills & abilities to deliver promotional, image building campaigns & media liaisoning. Excellent content marketing skills in creating, optimizing & distributing content that effectively promotes company’s fame as a trusted industry leader. SKILLS

    Gallery: 5.84 लाख दीयो से जगमगाया अयोध्या

    Previous article

    अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा सीक्रेट सर्विस में कोरोना विस्फोट, 130 लोग मिले कोरोना पॉजिटिव

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.