September 25, 2021 12:51 pm
Breaking News यूपी

संकट में फिर से बीजेपी गायब, सपा कार्यकर्ता बाढ़ पीड़ितों की मदद करें: अखिलेश यादव

akhilesh yadav 8 संकट में फिर से बीजेपी गायब, सपा कार्यकर्ता बाढ़ पीड़ितों की मदद करें: अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। बाढ़ से मची तबाही के बीच अखिलेश यादव ने कहा है कि संकट का समय जब आता है तो बीजेपी गायब हो जाती है।

सपा मुखिया ने कहा कि यूपी में बाढ़ भीषण रूप ले रही है। सरकार हाथ पर हाथ धरे हुए बैठी है। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन को तत्काल बाढ़ पीड़ितों की मदद युद्धस्तर पर करनी चाहिए। अखिलेश यादव ने सीएम योगी पर निशाना साधते हुए कहा कि वे सिर्फ हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं। जमीन पर कोई राहत नहीं पहुंच रही है।

अखिलेश यादव ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि बुन्देलखण्ड और पूर्वांचल में बाढ़ ने तबाही मचा दी है। सैकड़ों गांवों में बाढ़ का पानी भर गया है। हजारों हेक्टेयर फसल जलमग्न हो चुकी है। पशुओं के सामने चारे का संकट है। बाढ़ के पानी में डूबे गांवों तक कोई सरकारी मदद नहीं पहुंची है। इटावा, जालौन, औरैया, प्रयागराज, कौशाम्बी, हमीरपुर, वाराणसी, लखीमपुर खीरी, सहित दर्जनों जिले बाढ़ से प्रभावित हैं।

अखिलेश ने कहा कि यूपी भाजपा सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में बाढ़ से निपटने की दिशा में कोई ठोस रणनीति नहीं बनाई। बारिश के पहले बंधों की मरम्मत और आपदा राहत का बंदरबांट हो गया। जिसके कारण बाढ़ ने विकराल रूप ले लिया है। उन्होंने कहा कि बाढ़ में अपना सबकुछ खो चुके लोगों को कोई राहत नहीं मिली। फसलों के नुकसान से अन्नदाता की कमर टूट गयी है। गंगा, यमुना, बेतवा, शारदा, कुआनों समेत कई नदियों में जलस्तर बढ़ने से समीपवर्ती इलाके पानी में डूब गये हैं।

अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील की है कि पूरी क्षमता से बाढ़ पीड़ितों की मदद में लग जाएं। उन्होंने कहा कि सपा जनता के दुःख दूर करने के लिए हमेशा की तरह तैयार है। यूपी की योगी सरकार राहत के नाम पर सिर्फ कागजी खानापूर्ति कर रही है।

हवा-हवाई बयानों से भाजपा स्वयं अपनी पीठ ठोंक रही है। राहत शिविर में दुर्व्यवस्था फैली है। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने अच्छे दिनों के नाम पर जनता के साथ धोखा किया है। भाजपा की नीतियां जनता के विरूद्ध है। संकट के समय भाजपा गायब हो जाती है। झूठे और भ्रामक विज्ञापनों के सहारे जनता को गुमराह कर लोकतंत्र पर कब्जा करना ही भाजपा का लक्ष्य है। जनता इस सच्चाई को जान गयी है।

Related posts

केरल: नाबालिग के साथ 44 लोगों ने किया गैंगरेप, अभी तक 20 लोग गिरफ्तार

Aman Sharma

वाराणसी में कड़ी सुरक्षा के बीच हो रहा पंचायत चुनाव का मतदान

Aditya Mishra

होली के दौरान पूजन करें या नहीं, जानिए क्या है होलाष्टक

Aditya Mishra