September 30, 2022 10:11 pm
यूपी

नोटबंदी में भाजपा ने कार्तकर्ताओं को सौंपी बाइक की चाभी

bjp bike नोटबंदी में भाजपा ने कार्तकर्ताओं को सौंपी बाइक की चाभी

वाराणसी। नोटबंदी के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फैसले के बाद भारतीय जनता पार्टी पर विपक्षी दलों ने शुरू से ही ये आरोप लगाया था कि पार्टी ने बड़े पैमाने पर नोटबंदी के ऐलान के पहले ही भाजपा ने बिहार के कई जिलों मे जमीन की खरीद फरोख्त की है। अब कार्यकर्ताओं को उत्तर प्रदेश मे मोटरसाइकिल वितरित किया जा रहा है । ताजा मामला प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से जुड़ा है जहा काशी प्रान्त के विधानसभा क्षेत्रों के लिये लगभग तीन सौ मोटरसाइकिल खरीदने कर वितरित किया जा रहा है।

bjp-bike

आज नदेसर स्थित मिंट हाउस के पास स्थित एक मैदान मे बड़ी संख्या मे टीवीएस मोटरसाइकिलो को रखा गया था । बड़े ही गुपचुप तरीके से वाराणसी और आसपास के विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं को सुबह से ही उनके पहचान पत्रो के साथ बुलाया गया। जहां कार्यकर्ताओं के पहचान पत्रो की जांच करा के मोटरसाइकिल की चाभिया सौंपी गई । बिना पेट्रोल के दिये गये मोटरसाइकिल को धकेल कर कार्यकर्ता पेट्रोल टंकी तक ले गये जहां से पेट्रोल टंकी से वे अपने अपने निर्धारित क्षेत्रों मे पार्टी के नितियों के प्रचार प्रसार के लिये निकल गये । मोटर साईकिल मिलने के बाद कार्यकर्ताओं का उत्साह देखने लायक था जोश से लबरेज कार्यकर्ता भी पार्टी की नितियो का प्रचार करने के लिये व्यग्र दिखे।

ख़ास बात ये है मीडिया कैमरे से छूपा कर वितरित किया जा रहे इस मोटरसाइकल पर जब कैमरे की निगाह पड़ी तो मोटरसाइकल वितरण करने में लगे लोगो ने कैमरे पर हाथ तक लगा दिया ।बहरहाल बीजेपी का कोई भी बड़ा नेता इस मुद्दे पर कुछ भी कहने से इंकार कर रहा हैं । तो वही सड़को पर इस मोटरसाइकल को देख चर्चाएं भी गर्म हो चुकी है। वही अगर विपक्ष की बात की जाए तो कांग्रेस और सपा नेता ने कहा कि नरेंद्र मोदी भर्ष्टाचार मिटाने का छलावा कर रहे हैं ।कोई कालाधन वाला पकड़ा नही गया हैं। वही बीजेपी अपने काले धन को छुपाने के लिए पुरे देश में जमीन , बाइक इत्यादि खरीद कर अपने कालाधन को सफ़ेद बना रही हैं ।

सौरभ श्रीवास्तव, संवाददाता

Related posts

अमेठी में अब बनने जा रहा स्मृति ईरानी का घर, पूरा किया वादा

Aditya Mishra

मंत्रियों के बाद अब बाबुओं पर भी गिरेगी गाज, मोदी सरकार करा रही परफॉरमेंस रिव्यू

Shailendra Singh

कॉलेजों में भी ऑनलाइन पढ़ाई की मांग हो रही तेज

Aditya Mishra