मणिपुर की भाजपा सरकार का दावा, पिछले सालों की तरह अब नहीं लेना पड़ेगा कोई कर्ज

मणिपुर के इम्फाल में झुग्गी झोपड़ी जीवन उत्थान मिशन (स्लम फाउंडेशन) मणिपुर प्रदेश के कार्यालय उद्घाटन और उसके उपरांत आयोजित कार्यक्रम “श्रमेव विजयते” में मुख्य अतिथि के रुप में पहुंचे वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने अपने संबोधन में कहा कि पिछले सरकारों के द्वारा अपने झोली भरने के कारण केंद्र सरकार द्वारा दी जा रही 90% आमदनी के बावजूद भी मणिपुर राज्य को कर्ज लेकर काम करना पड़ता था लेकिन जब से केंद्र और राज्य में भाजपा की सरकार आई है मणिपुर को कोई कर्ज नहीं लेना पड़ रहा है।

 

 

श्री शुक्ला जी ने आगे कहा कि मणिपुर से ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस अपनी लड़ाई लड़ रहे थे यहीं पर उनको अंतिम बार देखा गया था। उन्होंने मिशन के पदाधिकारियों और राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय श्री सुनील भराला जी को आश्वासन दिया कि मिशन का कोई भी कार्य उनके द्वारा पूरा करने में पूर्ण सहयोग मिलेगा।

 

 

कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रुप में पहुंचे पूर्व राष्ट्रीय सहसंयोजक (भाजपा झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ और राष्ट्रीय अध्यक्ष झुग्गी झोपड़ी जीवन उत्थान मिशन)  पंडित सुनील भराला ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्र ऋषि पूजनीय दत्तोपंत ठेंगड़ी जी और पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की सोच समाज के अंतिम व्यक्ति को विकास की मुख्यधारा से जोड़ना था उन्हीं की जीवन के आदर्शों से प्रेरणा लेते हुए पूर्व में भारतीय जनता पार्टी के झुग्गी झोपड़ी प्रकोष्ठ में अपने दायित्वों का निर्वाहन किया और वर्तमान में उन्हीं कार्यकर्ताओं की ऊर्जा और लगन से आज भी उनके उत्थान से संबंधित कार्य मिशन कर रहा है।

 

भराला ने कहा कि आज भारत के 39.5करोड़ लोग जो झुग्गी बस्ती मलीन गरीब रिक्शा चालक रेड़ी ठेली वाले के समस्याओं का समाधान करने के लिए पीएम मोदी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी और पूजनीय दत्तोपंत ठेंगड़ी जी के सपने को पूरा करने का संकल्प लेकर उनके बीच बड़ी तन्मयता से कार्य कर रहे हैं और मुझे आशा है कि 2022 तक भारत झुग्गी मुक्त हो जाएगा।

भराला ने आगे कहा कि मणिपुर प्रदेश के अध्यक्ष पदाधिकारी इतने लगन और मेहनत से जुटे हुए हैं कि किसी भी संस्था में ऐसे लोगों ने से उस संस्था को अपने उद्देश्यों की पूर्ति में कोई बाधा नहीं आ सकती है उन्होंने इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए मणिपुर के प्रदेश पदाधिकारियों को साधुवाद दिया और नए कार्यालय के उद्घाटन के लिए भी उनको धन्यवाद कहा।

 

कार्यक्रम में माननीय आद्या प्रसाद पांडे जी कुलपति मणिपुर यूनिवर्सिटी नेवी श्री दत्तोपंत ठेंगड़ी जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए मिशन को अपनी शुभकामनाएं प्रदान की और भविष्य में मिशन को सहायता प्रदान करने का आश्वासन भी दिया।

 

कार्यक्रम की अध्यक्षता रोबिन्द्रों थांगजम जी और संचालन श्रीमती एस्टर जी ने किया। राजकुमार अटवाल, पी.ए. ठेको जी और गेदोन केसिन जी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिमी, अतिफा, चोन चोन, दयावती, चंद्रकुमार,ओज़ेड, रूपो, मोनिका, थोईबी आदि उपस्थित रहे।