बर्थडे स्पेशल-इस फिल्म ने बदली थी नवाजुद्दीन सिद्दीकी की किस्मत

नई दिल्ली। अपने किरदारों की छाप लोगों को दिलों में छोड़ने वाले और अलग तरह के किरदार से लोगों के दिलों में धाक जमाने वाले एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी आज अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं। नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपने करियर की शुरूआत 19 साल पहले आमिर खान की फिल्म ‘सरफरोश’ से की थी। इसमें नवाज ने काफी छोटा सा रोल निभाया था जिसकी वजह से उन्हें काफी पहचान नहीं मिली। पर अनुराग कश्यप की फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ने लोगों के लोगों के दिलों में ऐसी छाप छोडी कि उसके बाद नवाजुद्दीन सिद्दकी का नाम लोगों की जुंबा पर चढ़ गया।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी यूपी के मुजफ्फरनगर के बुधना के रहने वाले हैं। नवाज के पिता पेशे से किसान हैं।  नवाज के गांव में कोई भी थियेटर नहीं था। फिल्म देखने के लिए उन्हें 45 किलोमीटर दूर जाना पड़ता था। बॉलीवुड में आने से पहले नवाजुद्दीन ने महज 5 फिल्में ही देखी थीं। इसके साथ ही वह रोजाना एक्टिंग की रिहर्सल शीशे के सामने खड़े होकर करते थे।ग्रेजुएशन के बाद नवाजुद्दीन ने दवा की दुकान पर कुछ समय के लिए काम किया था। इसके बाद नवाज दिल्ली चले गए और वहां पर बतौर चौकीदार काम किया था। हालांकि यह पेशा नवाज का एक्टिंग की तरफ से रुख नहीं मोड़ सका और उन्होंने दिल्ली में ही थियेटर में दाखिला ले लिया था।

पत्नी को नहीं किया कभी भी किस

नवाज को अपने करियर के संघर्ष भरें दिनों में भी अपन गांव की एक लड़की अंजली से प्यार हो गया और फिर नवाज उसके साथ शादी के बंधन में बंध गए। पर नवाज से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा हम आपको सुनाते हैं दरअसल नवाज ने एक इंटरव्यू के दौरन नवाजुद्दीन कहा था कि उन्होंने अपनी पत्नी को कभी भी किस नहीं किया। उन्होंने पहली बार मिस लवली को-स्टार निहारिका सिंह को ऑनस्क्रीन किस किया था।

‘सचिन आला रे’ में पहली बार आए नजर

नवाजुद्दीन पहली बार पेप्सी के कैम्पेन विज्ञापन ‘सचिन आला रे’ में नजर आए थे। जिसके लिए उन्हें 500 रुपए दिए गए थे। बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने के लिए नवाजुद्दीन को करीब 12 साल का संघर्ष करना पड़ा। ‘न्यूयॉर्क’ फिल्म में नवाजुद्दीन की एक्टिंग ने फिल्म डायरेक्टर कबीर बेदी का दिल जीत लिया था। इस फिल्म को देखने के बाद कबीर नवाज से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने ‘बजरंगी भाईजान’ के लिए नवाजुद्दीन को रोल ऑफर कर दिया था। साल 2012 नवाजुद्दीन के करियर का सबसे बड़ा टर्निगं प्वाइंट बना। कहानी, गैंग्स ऑफ वासेपुर और तलाश फिल्म ने नवाज के फिल्मी सफर को ऊंचाइयों तक पहुंचा दिया।
इन वजहो से रहें विवादों में

पत्नि पर जासूसी का आरोप

नवाजुद्दीन की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है जिसकी वजह से वो अक्सर सुर्खियों में भी रहें हैं। कुछ दिनों पहले नवाजुद्दीन पर अपनी पत्नी की जासूसी का आरोप लगा। कॉल डेटा रिकॉर्ड CDR मामले में हुए खुलासे के तहत नवाज का नाम भी सामने आया। खबरों के मुताबिक, नवाज को अपनी पत्नी पर भरोसा नहीं था और उन्होंने उनके पीछे महिला जासूस लगा रखी थी। इतना ही नहीं नवाज अपने वकील के जरिए पत्नी के मोबाइल की पूरी जानकारी जुटाया करते थे। इस काम में उनके वकील रिजवान सिद्दीकी मदद कर रहे थे। पुलिस ने रिजवान सिद्दीकी को गिरफ्तार भी किया था। हालांकि विवाद बढ़ता देख उनकी पत्नी ने बयान दिया कि ऐसा कुछ भी नहीं है।