a54e85d2 d55a 4a57 a141 cde60b34cda8 देविका रानी ने की थी फिल्मों में किसिंग सीन की शुरूआत

नई दिल्ली। अगर आप भी फिल्मों के शौकिन हैं और सिनेमा जगह की हर खबर से रूबरू रहते हैं तो आप सभी को पता होगा कि सिनेमा जगत की शुरूआत कब हुई…..पहली फिल्म कौन सी थी….पहला गाना कौन सा था….यें सब आपने बचपन से पढ़ा होगा पर अगर आपसे यें पूछा जाए कि हिंदी सिनेमा की पहली हिरोइन कौन थी तो आप क्या कहेगें
क्या आपको इस बात का पता हैं अगर नहीं तो आज हम आपको उनहीं के बारें में बताने जा रहे हैं हालाकिं अब वो जीवित तो नहीं हैं पर अगर देखा जाए तो आज भी उऩका एहसास हमारें अंदर मौदूज हैं। जिनका आज बर्थड़े हैं और वो कोई और नहीं बल्कि भारतीय सिनेमा की पहली सशक्त महिला और हिंदी सिनेमा जगत की पहली हीरोइन देविका रानी हैं।
देविका रानी ने ना सिर्फ फिल्मों मे अदाकारा का किरदान निभाया बल्कि वो फिल्म निर्माण कम्पनी का कुशल संचालन के साथ उन्होनें अपना नाम फिल्मी जगत में एक प्रभावशाली शख्सियत के रुप में निखारा।

 

a54e85d2 d55a 4a57 a141 cde60b34cda8 देविका रानी ने की थी फिल्मों में किसिंग सीन की शुरूआत

 

किसिंग सीन के वजह से चर्चा में रहीदेविका रानी ही पहली ऐसी अभिनेत्री बनी जिन्होनें फिल्मों मे किसिंग सीन की शुरूआत की बता दे कि बॉम्बे टॉकीज़ के संस्थापक हिमांशु रॉय के साथ देविका रानी का किसिंग सीन बेहद चर्चा में रहा था हालाकिं हिमांशु रॉय देविका रानी के पति थें पर फिर भी उऩका यें किसिंग सीन चर्चा में रहा था क्योकि यें पहला बोल्ड किसिंग सीन था. इस सीन के कारण उस समय देविका रानी को काफी आलोचना भी झेलना पड़ी थी लेकिन उन्होंने इसे कभी गलत नहीं माना।  बता दे कि देविका रानी उस समय काफी बोल्ड थी जो हमेशा चर्चा का विषय़ बनती थी और अपने बोल्ड रवैये के कारण वो लोगों की अलोचना भी झेलती थी। बता दे कि अपने इसी बोल्ड रवैय के कारण वो विदेशों तक उन्होंने अपनी पहचान बनाने में कामयाब हुई थी।

देविका रानी फेमिनिस्ट
देविका रानी उस ज़माने में फेमिनिस्ट थीं, जब यह शब्द इतना अधिक इस्तेमाल नहीं होता था. उन्होंने व्यक्तिगत जीवन से लेकर सिनेमा के परदे तक एक सशक्त महिला की छवि को जिया. वह विपरीत परिस्थितियों में सक्षम महिला के रूप में सामने आईं। यहां तक कि वह पहली महिला थीं जिन्होंने एक फिल्म निर्माण कंपनी का सफल संचालन किया।
दिलीप कुमार, मधुबाला और राज कपूर करने वाली हिंदी सिनेमा के परदे पर एक से बढ़कर एक किरदार निभाने के बाद देविका रानी का सबसे बड़ा योगदान यह माना जाता है कि उन्होंने सिनेमा को बेहतरीन कलाकार बतौर फिल्मकार सौंपे। दिलीप कुमार, मधुबाला और राज कपूर भी देविका रानी की ही खोज माने जाते हैं।

ड्रैगन लेडी के नाम से मशहूर
देविका रानी को उस समय में एक ड्रैगन लेडी के रुप में देखा जाता था क्योकि वो काफी बोल्ड औऱ बैबाक और गुस्सें वाली महिला था जिसे उस समय किसी बात सकी परवाह नहीं होती थी। 60-70 साल पहले वह ऐसी महिला थीं जो इन सब बातों की परवाह किये बगैर अपने मन की करती थीं और अपने इसी अंदाज के कारण लोग उन्हें ड्रैगन लेडी के नाम से जानते थें।

सड़क हादसे में गंभीर घायल छात्रा के इलाज के लिए सीएम ने दिए 2.5 लाख

Previous article

उत्तर प्रदेश में अगले उप चुनाव में दाव पर होगी बीजेपी की साख

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.