लालू की बिगड़ी तबियत-रेम्स में किया भर्ती

नई दिल्ली। चारा घोटाला के मामले में सजा काट रहे हैं लालू बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को तबीयत खराब होने के चलते रिम्स में भर्ती करवाया गया हैं। बता दे कि लालू पाइल्स से पीड़ित है। तकलीफ बढऩे के बाद लालू को केंद्रीय जेल होटवार के डॉक्टरों की ओर से रिम्स रेफर किया है। लालू यादव की तबीयत खराब होने की खबर ंमिलते ही पटना में पार्टी के कार्यकर्ताओं की ओर से पूजा पाठ किया गया। रिम्स मे ंलालू की सर्जिकल प्रोफाइल की जांच की गई थी जिसमें हीमोग्लोबिन, ब्लड शुगर, लीवर, एचआइवी, हेपेटाइटिस समेत कई अन्य जांच भी गई थी । बता दे कि सर्जरी विभाग के डॉ. एमएस सरावगी की ओर से लालू का इलाज किया गया हैं। डा. सरावगी के अलावा कॉर्डियो के चिकित्सकों की ओर से भी  उनकी जांच की गई थी।

लालू के रिम्स में पहुंचने की सूचना मिलते ही रिम्स में उनके  समर्थकों एवं राजद नेताओं  का जमावड़ी उन्हें देखने को उमड़ पड़ा।सबसे पहले प्रदेश राजद अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी रिम्स पहुंचीं। कुछ देर बाद वह लौट गईं। लगभग तीन बजे पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह पहुंचे। तीन बजे तक वह रूके, उनके साथ बड़ी संख्या में उनके समर्थक रिम्स पहुंच चुके थे। इसके साथ ही रिम्स सुपरिटेंडेंट गेट के बाहर मीडियाकर्मियों की भी भीड़ उमड़ गई।

बिहार सरकार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री व लालू प्रसाद के पुत्र तेज प्रताप यादव भी पटना से रांची पहुंचे। तेजप्रताप ने मीडियाकर्मियों से कहा कि उनके पिता की तबीयत खराब है। इसी सूचना पर वह यहां पहुंचे हैं। जांच के बाद ही पता चल पाएगा।
तेज प्रताप के पहुंचने के बाद लालू प्रसाद को मीडिया कर्मियों व समर्थकों से बचते-बचाते कार्डियोलॉजी विभाग के गेट से अंदर ले जाया गया। कार्डियो गेट पर सुरक्षा व्यवस्था और बढ़ा दी गई है। मीडियाकर्मी समेत अन्य लोगों का प्रवेश फिलहाल वर्जित कर दिया गया है। समर्थकों को भी उनसे मुलाकात की इजाजत नहीं दी जा रही है।

लालू की सेहत के लिए पूजा पाठ

रांची जेल में बंद राजद प्रमुख लालू प्रसाद की अचानक तबियत खराब होने की सूचना मिलने के बाद राजद नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने शीघ्र स्वस्थ होने की कामना से पूचा-अर्चना शुरू कर दी है। शनिवार को पटना के महावीर मंदिर में राजद के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य भाई अरुण, ई. अशोक यादव, सत्येंद्र पासवान, उपेंद्र चंद्रवंशी समेत दर्जनों नेता-कार्यकर्ताओं ने पूजा की।

चारा घोटाले में एक अन्‍य मामले में फिर फैसले को टाल दिया गया हैं। आपको बता दे कि इस बात तिथी 19 मार्च निर्धारित की गई हैं। फैसला टलने को लेकर लालू प्रसाद के अधिवक्ता अनंत कुमार विज ने बताया कि सीबीआइ के विशेष न्यायधीश शिवपाल सिंह की अदालत में फैसला आना था, लेकिन जज दो दिनों की ट्रेनिंग में गये हैं। इसलिए तिथि को टाल दिया हैं।