बिहार जुलूस हिंसा -केंद्रीय मंत्री के बेटे पर दर्ज हुई FIR

नई दिल्ली। बिहार के भागलपुर जिले में एक जुलूस निकालने के दौरान गाना बजाने को लेकर दो समुदाओं के लोगों की बीच झड़प हो गई थी जिसमें करीब 60 लोग घायल हो गए थे।  ये पूरी घटना नाथनगर पुलिस थाना इलाके में घटित हुई बता दे कि इस इलाके में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत चौबे की अगुवाई में एक जुलूस निकला जा रहा था इस मामले में इस मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत पर FIR  दर्ज की गई हैं।

क्या हैं मामला अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत चौबे की अगुवाई में बीजेपी, आरएसएस और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की ओर से नववर्ष को लेकर जुलूस निकाला जा रहा था जिसमें जिसमें गाने बजाने को लेकर दोनो समुदाओं के बीच झड़प हो गई  थी जिस मामले में अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत चौबे समेत आठ लोगों के खिलाफ  एफआईआर दर्ज की गई है। इन सबपर लोगों की भावनाएं भड़काने का आरोप लगाया गया है।

बता दें कि दो दिन पहले अर्जित ने अपने समर्थकों के साथ नाथनगर से मोटरसाइकिल जुलूस निकाला था।
जैसे ही यह मोटरसाइकिल जुलूस एक खास अल्‍पसंख्‍यक जाति के मोहल्‍ले से होकर गुजरा तो जुलूस में शामिल लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाने शुरू कर दिए इसके बाद खास अल्‍पसंख्‍यक समुदाय की ओर से प्रतिक्रिया दी गई जिससे तनाव की स्थिती पैदा गई थी  इसके बाद  शुरू  हुए तनाव के बाद दर्जनों दुकानें जला दी गईं। मोटरसाइकिल फूंकी गई थी।

उपद्रवियों की ओर से  15 राउंड फायरिंग की गई थी और चार बम भी फोड़़े गए थे। तनाव को देखते हुए क्षेत्र में इंटरनेट सेवा बंद करा दी गई है। कई घंटे तक पथराव, बमबाजी, फायरिंग और तोडफ़ोड़ हुई। चार जिलों की पुलिस बुलाई गई, तब स्थिति नियंत्रण में आई। जिसमें तकरीबन 60 लोग घायल हो गए