Breaking News featured दुनिया देश

डोकलाम विवाद पर बड़ी खबर चीन हटाएगा सेना, भारत की हुई कूटनीतिक जीत

doklam डोकलाम विवाद पर बड़ी खबर चीन हटाएगा सेना, भारत की हुई कूटनीतिक जीत

नई दिल्ली। आखिरकार ड्रैगन को अपनी हार माननी ही पड़ी। लम्बे समय से डोकलाम को लेकर गतिरोध जारी था। इस गतिरोध के चलते लम्बे समय से दोनों देशों की सेना आमने-सामने थीं। लगातार चीन डोकलाम को लेकर भारत पर घुड़की दे रहा था। डोकलाम को चीन अपना हिस्सा बता रहा था। लेकिन भारत ने डोकलाम से सेनाएं हटाने से साफ इनकार कर दिया था। लेकिन 2 महीने से ज्यादा चले गतिरोध के बाद आखिरकार चीन पर भारत की एक बड़ी कूटनीतिक जीत हुई है। चीन अब डोकलाम से सेनाएं हटाने को राजी हो गया है।

doklam डोकलाम विवाद पर बड़ी खबर चीन हटाएगा सेना, भारत की हुई कूटनीतिक जीत

आने वाले 3 सितंबर से प्रधानमंत्री मोदी चीन के दौरे पर भी जाने वाले हैं। डोकलाम पर दोनों देशों में 2 महीने से ज्यादा वक्त से गतिरोध जारी था। दोनों देशों की सेनाएं आमने सामने आ गई थी। चीन की ओर से इस बारे में लगातार विवादित बयान दिया जा रहा था। चीन ने डोकलाम को लेकर युद्ध तक करने की धमकी दे डाली थी। हांलाकि इस मामले में चीन को अमेरिका भाजपा आदि बड़े देशों ने भी चीन को बातचीत से मुद्दे को हल करने और संयम बरतने की सलाह दी थी।

डोकलाम को लेकर चीन ने कहा था कि वह उसके हिस्सा में आता है । भूटान के साथ उसकी सीमाओं का आंकलन अभी तय नहीं हुआ है। डोकलाम क्षेत्र में चीन सड़क का निर्माण कर रहा था। भारत ने इस निर्माण पर ऐतराज जताते हुए इसे रोक दिया था। जिसके बाद भूटान और भारत ने संयुक्त तौर पर इस निमार्ण को रोक दिया था। इससे चीन ने भारत के इस कदम को गलत और गैरजिम्मेदाराना करार दिया था। इसके बाद से दोनों देशों के बीच जुबानी जंग चालू हो गई थी।

डोकलाम विवाद पर चीन ने भारत के साथ कभी लद्दाख तो कभी कश्मीर मामले पर हस्तक्षेप करने की बात कही थी। लेकिन बीते 15 अगस्त को लद्दाख इलाके में भारतीय सैनिकों और चीनी सैनिकों के बीच जमकर पत्थरबाजी भी हुई थी। चीन पहले भारत पर दबाव बनाने के लिए कभी सीमा के पास युद्धाभ्यास करने लगा तो कभी समंदर में लेकिन उसकी सारी चाल बेअसर होने लगी तो आखिरकार उसने बातचीत का रास्ता अपनाते हुए पीएम मोदी के दौरे के पहले डोकलाम क्षेत्र से सेना हटाने की बात कही है।

वैश्विक स्तर पर चीन के साथ भारत की ये एक बडी जीत हुई है। इस मामले में चीन को भारत ने एक बार फिर बैकफुट पर जाने को विवश कर दिया है। इसके साथ ही दोनों देशों की सेनाएं डोकलाम को खाली करने पर तैयार हो गई हैं। सूत्रों की माने तो इस मामले में कई हफ्तों से विश्व मंत्रालयों के बीच बातचीत चल रही थी। जिसका ये सकारात्मक हल निकल कर सामने आया है।

 

 

Related posts

आर-पार की लड़ाई के मूड में पेंशन विहीन, शुरू किया नया अभियान

Aditya Mishra

मां-बेटे और सुपारी किलर ने बहु की जान लेने का किया प्रयास

Breaking News

जॉन अब्राहम, मनोज वाजपेयी की सत्यमेव जयते, बॉक्स ऑफिस पर फहराएगी तिंरगा

mohini kushwaha