छात्रों की मौत को लेकर तेजस्वी का बड़ा आरोप, सीएम आरोपी को बचा रहे

छात्रों की मौत को लेकर तेजस्वी का बड़ा आरोप, सीएम आरोपी को बचा रहे

पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर में एक सड़क दुर्घटना में हुई 11 स्कली बच्चों की मौत को लेकर प्रदेश में राजनीति गरमा गई है। बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी पर तंज कसा है। तेजस्वी ने दोनों पर हादसे के लिए जिम्मेदार बीजेपी नेता को बचाने का आरोप लगाया है। इसी के साथ तेजप्रताप यादव ने भी नीतीश कुमार पर सवाल खड़े करते हुए पूछा है कि शराबबंदी के दौर में आखिर शराब आ कहां से रही है?

मालूम हो कि शनिवार को मुजफ्फरपुर के मीनापुर प्रखंड में मध्य विद्यालय धर्मपुर के छात्रों को एक तेज रफ्तार बोलेरो कार ने रौंद दिया था, जिससे मौके पर ही नौ बच्चों की मौत हो गई थी और 20 बच्चें घायल हो गए थे। वहीं अब मृतकों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है।  बताया जा रहा है कि दुर्घटनाग्रस्‍त बोलेरो बीजेपी महादलित मंच के प्रदेश मंत्री मनोज बैठा की है, जो खुद भी दुर्घटना में घायल हुए हैं। लेकिन, बीजेपी ने इस मामले से पल्‍ला झाड़ लिया है, जिसको लेकर तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर आरोप लगाते हुए सवाल उठाए हैं।

तेजस्वी ने अपने ट्वीट में लिखा कि मुजफ्फरपुर में 35 बच्चों को रौंदने और 11 बच्चों को दर्दनाक मौत की नींद सुलाने वाले बीजेपी नेता कों मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी बचाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया की बीजेपी नेता नीतीश कुमार के संरक्षण की वजह से नशे में धुत था और ड्राइवर अभी तक पकड़े नहीं गए हैं। वहीं इसके पहले लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने भी ट्वीट किया कि बीजेपी के महामंत्री के शराबी बोलेरो ड्राईवर ने 24 मासूमों को रौंदा, जिनमें नौ की मौत हो गई।  तेजप्रताप यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया है कि उन्‍होंने तो शराब बंद करा दी है, फिर ये शराब कहां से आ रही है?