JOE BIDEN e1614945912958 बाइडेन प्रशासन का विस्तार, 56 भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक प्रशासन में शामिल

अमेरिका – राष्ट्रपति बाइडेन में अपने प्रशासन में बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोगो को शामिल करते हुए कहा है कि इससे अमेरिका में भारतीय मूल के लोगो का दबदबा बढ़ा है। इंडियास्पोरा’ के संस्थापक एम रंगास्वामी ने कहा कि वे बाइडेन सरकार के इस फैसले की सराहना करते हैं।

पूरी नियुक्ति में हैं लगभग आधी संख्या में महिलायें –
बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति पद संभालने के 50 दिन के भीतर ही बाइडेन ने अपने प्रशासन में महत्वपूर्ण पदों पर भारतीय मूल के कम से कम 56 लोगों को नियुक्त किया है जिसमे लगभग आधी संख्या में महिलायें हैं जो व्हाइट हाउस में काम कर रही हैं। इसके साथ ही राष्ट्रपति के भाषण लेखन से लेकर अंतरिक्ष एजेंसी नासा तक सरकार के हर विभाग में भारतीय मूल के अमेरिकियों की नियुक्ति हुई हैं।

एम रंगास्वामी ने की बाइडेन के इस फ़ैसले की तारीफ़ –
बताया जा रहा है कि बाइडेन प्रशासन ने जन सेवा क्षेत्र के दो भारतीय मूल के विशेषज्ञों को स्वयंसेवा एवं सेवा के लिए संघीय एजेंसी (अमेरिकॉर्प्स) में प्रमुख पदों पर नियुक्त किया है। सोनाली निझावन को अमेरिकॉर्प्स स्टेट एंड नेशनल की निदेशक और प्रेस्टन कुलकर्णी को विदेश मामलों का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है इसके साथ ही विनय रेड्डी को राष्ट्रपति अभिलेखन के लिए नियुक्त किया गया है। इंडियास्पोरा’ के संस्थापक एम रंगास्वामी ने राष्ट्रपति बाइडेन के इस फ़ैसले की तारीफ़ करते हुए कहा है कि इससे पहले बराक ओबामा के कार्यकाल में सबसे ज्यादा भारतीय मूल के लोगों की नियुक्ति की गयी थी। समाजसेवी और ‘इंडियास्पोरा’ के संस्थापक एम रंगास्वामी ने कहा कि यह देखना अत्यंत सुखद है कि भारतीय मूल के कई लोग लोकसेवा का काम कर हैं। बाइडेन सरकार के बाद और कई लोग जुड़े हैं। समुदाय का दबदबा बढ़ते देखकर गर्व की अनुभूति हो रही है।

यूपी की कानून व्यवस्था पर अखिलेश यादव का तंज, बोले यहां है ‘अंधेर नगरी चौपट राजा’ वाला हाल

Previous article

काशी में जल्दी ही फ्लोटिंग लाइब्रेरी का आनंद ले पाएंगे पर्यटक

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.