इस वीआईपी नंबर के लिए लगी 6 लाख की बोली, टूटे सारे रिकॉर्ड

लखनऊ: वाहन की नंबर प्लेट अगर विआईपी नंबर वाली होती है तो दबदबा ज्यादा हो जाता है। ऐसा मानने वाले लोगों ने इस बार भी बढ़-चढ़कर बोली लगाई। इस दौरान ₹1000 से लेकर ₹6 लाख से अधिक की बोली लगी।

6 लाख एक हजार रुपए में मिला वीआईपी नंबर

UP32MA0001 यह नंबर काफी डिमांड में रहा, कई लोगों ने इसे पाने के लिए बोली लगाई। इस दौरान ट्रांसपोर्ट नगर आरटीओ कार्यालय में नया रिकॉर्ड बन गया। इसके पहले तक सबसे ज्यादा किसी नंबर पर ₹4,10,000 की बोली लगी थी। लेकिन शुक्रवार को प्रवीण नामक व्यक्ति ने ₹6,01,000 में नंबर अपने नाम किया।

खास नंबर की लगती है बोली

आरटीओ कार्यालय की तरफ से बोली लगाकर कुछ खास नंबरों को जारी किया जाता है। इसके लिए सबसे ऊंची बोली लगाने वाला उस नंबर पर अपनी दावेदारी मजबूत करता है। आरटीओ से जारी नंबर मिलने के साथ ही 30 दिन के भीतर उसे गाड़ी में लगवाना होता है। ऐसा न करने पर जमा की गई राशि जब तक ली जाती है।

रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के माध्यम से वीआईपी नंबर के इच्छुक लोग आवेदन करते हैं। जिसके बाद उन्हें सबसे ज्यादा बोली लगानी होती है। किसी भी नई सीरीज के पहले आरटीओ कुछ गाड़ी नंबरों को बोली के लिए चयनित कर लेता है, जिसे नीलामी के माध्यम से जारी किया जाता है।

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट हो गया अनिवार्य

आरटीओ कार्यालय की तरफ से नए निर्देश में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट को अनिवार्य कर दिया गया है। इसके लिए निश्चित समय सीमा निर्धारित की गई है, जिसके बीच में सभी को नंबर प्लेट बदलवानी होगी। इस नियम के बाद बाहर की दुकानों से तरह-तरह के दिखाई देने वाली नंबर प्लेट का चलन बंद हो जाएगा। सभी गाड़ियों में एक जैसा सिस्टम लाने के लिए यह प्रयोग किया जा रहा है। इससे फ्रॉड के मामले भी कम होंगे और सुरक्षा भी मजबूत होगी।

लखनऊ: अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने पत्‍नी संग लगवाई कोरोना वैक्सीन

Previous article

इलाहाबाद हाईकोर्ट पर पड़ा कोरोना का साया!, 5 से 9 अप्रैल तक नहीं होगा कोई काम

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured