लाउडस्पीकर से अजान पर BHU छात्र की शिकायत, वाराणसी पुलिस ने किया ऐसा

वाराणसी: मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर से अजान से होने वाली परेशानी का मामला लगातार बढ़ रहा है। प्रयागराज के बाद अब वाराणसी जिले से भी एक शिकायत सामने आई।

बीएचयू के छात्र ने किया ट्वीट

काशी हिंदू विश्‍वविद्यालय (BHU) के एक छात्र ने वाराणसी पुलिस को ट्वीट करते हुए शिकायत की। गुरुवार को किए गए ट्वीट में छात्र ने लिखा कि- मैं भदैनी में कमरा लेकर रहता हूं। पास में एक मस्जिद है, जिससे निकलने वाली आवाज से मानसिक तनाव हो रहा है। कृपया इसका निवारण करने का उपाय कीजिए। इसके बाद वाराणसी पुलिस ने भी छात्र के इस ट्वीट का रिप्‍लाई दिया और बताया कि कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए गए हैं।

वाराणसी पुलिस ने दिया ट्वीट का रिप्‍लाई

बीएचयू छात्र करुणेश पांडेय ने वाराणसी पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट किया- ‘मैं करुणेश पांडे भदैनी में कमरा लेकर रहता हूं। पास में एक मस्जिद है, जहां से हर दिन सुबह, दोपहर, शाम, रात लाउडस्पीकर पर जोर-जोर से आवाज से मानसिक तनाव बढ़ रहा है। महोदय से निवेदन है कि यथोचित उपाय करें। वहीं, इस ट्वीट का रिप्लाई देते हुए वाराणसी पुलिस ने लिखा कि इस प्रकरण के संबंध में भेलूपुर प्रभारी निरीक्षक को कार्रवाई के लिए निर्देश दे दिया गया है।

 

 

प्रयागराज में लाउडस्‍पीकर पर रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक रोक  

प्रयागराज मामले में आइजी केपी सिंह ने जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को एक पत्र भेजा है। इस पत्र के माध्यम से उन्होंने ध्वनि प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट के आदेशों का सख्ती से पालन कराने को कहा है। उन्होंने कहा है कि, रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक लाउडस्पीकर को पूरी तरीके से बैन किया जाए। इसके साथ ही किसी भी पब्लिक एड्रेस सिस्टम पर भी रोक लगा दी जाए।

इविवि कुलपति ने जिलाधिकारी को लिखा था पत्र

आपको बता दें कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय की कुलपति संगीता श्रीवास्तव ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर मस्जिद के लाउडस्पीकर पर रोक लगाने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि इससे उनके मूल अधिकारों का हनन होता है। मस्जिद के लाउडस्पीकर से हो रही अजान से उनको नींद नहीं आती है। इससे वो सो नहीं पाती हैं और दिनभर उनके सिर में दर्द रहता है। उन्होंने ये भी जोड़ा था कि वो किसी धर्म और जाति के विरोध में नहीं हैं। उनको बस शोर से दिक्कत है।

योगी सरकार के चार साल पर प्रयागराज में प्रतियोगी छात्रों का ‘हल्‍ला बोल’

Previous article

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का दिल्ली दौरा, जनहित और विकास को बताया सर्वोपरि

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured