October 17, 2021 12:24 pm
featured Breaking News देश

बेजवाडा विल्सन और टीएम कृष्णा को मैग्सेसे अवॉर्ड

Megsese बेजवाडा विल्सन और टीएम कृष्णा को मैग्सेसे अवॉर्ड

नई दिल्ली। भारत के बेजवाडा विल्सन और टीएम कृष्णा इस साल के रमन मैग्सेसे अवॉर्ड के लिए चुने गए हैं। बेजवाडा सामाजिक कार्यकर्ता हैं तो कृष्णा को शास्त्रीय संगीत के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए यह पुरस्कार दिया जा रहा है। बेजवाडा और कृष्णा के अलावा चार और लोगों को इस अवॉर्ड के लिए चुना गया है। जिनमें फिलीपीन के कोंचिता कार्पियो-मोरैल्स, इंडोनेशिया के डोंपेट डुआफा, जापान ओवरसीज कोऑपरेशन वालंटियर एवं लाओस के वियंतीएन रेसेक्यू शामिल हैं।

Megsese

50 साल के बेजवाड़ा विल्सन कर्नाटक के एक दलित परिवार में पैदा हुए थे। विल्सन भारत में मैला ढोने की प्रथा के उन्मूलन के लिए एक प्रभावशाली मुहिम चलाने वाले व्यक्ति हैं। उन्हें ये अवॉर्ड ‘छोटे तबके की जिंदगी की बेहतरी के लिए’ काम करने के लिए दिया गया है। ‘सफाई कर्मचारी आंदोलन के भारत के 500 जिलों में 7 हजार से ज्यादा मेंबर्स हैं।

वहीं 40 वर्षीय टीएम कृष्णा चेन्नई में पैदा हुए थे। छह साल की उम्र से ही उन्होंने कर्नाटक संगीत की तालीम लेनी शुरू कर दी थी। कृष्णा ने इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन किया है लेकिन उनकी दिलचस्पी संगीत के क्षेत्र में थी। वो जल्द ही कर्नाटक शास्त्रीय संगीत के मशहूर कॉन्सर्ट परफॉर्मर के रूप में मशहूर हो गए। उन्होंने अपनी कला से भारतीय समाज में व्याप्त विभाजन को भरने का प्रयास किया और जाति तथा वर्ग के भेद को तोड़कर इस बात को स्थापित करने की कोशिश की कि संगीत सिर्फ एक आदमी के लिए नहीं सबके लिए है।

Related posts

गुजरात के जूनागढ़ में पत्रकार की हत्या, पूर्व मंत्री के बेटे पर लगा आरोप

bharatkhabar

योगी सरकार ने देर रात किया 10 IAS अधिकारियों का तबादला, कामकाज से नाराज थे ऊर्जा मंत्री

Aman Sharma

बनारस में मोदी का रोड-शो जारी देखें तश्वीरों में कितने उत्साहित नजर आ रहे मोदी

bharatkhabar