एक्सरसाइज बंद करने वाले हो जाए सावधान नहीं तो हो सकते हैं इसका शिकार

नई दिल्ली। आज लोग अपनी सेहत को लेकर काफी जागरूक हो गए हैं इसलिए तो लोग अपने बिजी शेडयूल मेंं भी समय निकाल एक्सरसाइज करते हैं पर उनकी यें एक्सरसाइज ज्यादा वक्त तक टिकती नहीं हैं क्योकि लोग उसे सुचारु रुप से नहीं चला पाते जिसके चलते वो उसे बीच में ही छोड़ देते हैं। जिसकी वजह से उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं। आज हम आपको बताएँगे कि आपको किन किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

रिसर्च के मुताबिक
रिसर्च के मुताबिक अगर आप बीच मे ं अचानक एक्सरसाइज बंद कर देते हैं तो आप डिप्रेशन  का शिकार हो सकत हैं। बता दे कि एक्सरसाइज अचानक छोडने से डिप्रेशन के लक्षणों में इजाफा हो सकता है। इस रिसर्च में ऑस्ट्रेलिया की यूनिवर्सिटी ऑफ एडीलेड की शोधकर्ता ने जूली मॉर्गन ने पहले से की गई रिसर्च के नतीजों की समीक्षा की जिनमें नियमित रूप से सक्रिय रहे वयस्कों में व्यायाम बंद करने के प्रभावों की पड़ताल की गयी थी। तो अगर आप एक्सरसाइज करते हैं तो अचानक ना छोड़े बल्कि धीरे धीरे करके छोड़े।

 

 शोधकर्ता का कहना हैं कि…
शोधकर्ता जूली का कहना है कि कसरत शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों के लिए जरूरी है। उन्हों ने कहा कि अगर सप्ताह के हर दिन संभव नहीं हो तो कुछ न कुछ गतिविधि करते रहना चाहिए। इतना ही नहीं, हेल्दी और डिप्रेशन से मुक्त रहने के लिये एक सप्ताह में कम से कम ढाई घंटे व्यायाम या 75 मिनट जमकर कसरत करना चाहिए।

 

नतीजों से हुआ साबित
क्लिनिकली इस रिसर्च में ये बात व्यापक रूप से साबित हुई है कि नियमित कसरत डिप्रेशन में कमी ला सकता है और यह डिप्रेशन का उपचार भी कर सकता है। हालांकि कसरत बंद करने से डिप्रेशन के लक्षणों पर पड़े प्रभावों के बारे में अभी बहुत ज्यादा रिसर्च नहीं हुई है।

तो देखा आपने अगर आप भी एक्सरसाइज को बीच मे ंही छोड़ देते हैं तो सावधान हो जाएं क्योकि यें आपके लिए घातक साबित हो सकता हैं।