December 3, 2021 10:53 pm
featured Life Style हेल्थ

एलोवेरा से कई बीमारियां होती है छू- मंतर, आइए जानें इसे इस्तेमाल का तरीका

90464243 3138475332913082 8223478778190364672 o 5929442 835x547 m एलोवेरा से कई बीमारियां होती है छू- मंतर, आइए जानें इसे इस्तेमाल का तरीका

घृत कुमारी या अलो वेरा/एलोवेरा के नाम से भी जाना जाता है, जो एक औषधीय पौधे के रूप में विख्यात है। ऐलोवेरा यानी घृतकुमारी में चमत्कारी गुण होते है, जो हमारे लिए काफी लाभदायक साबित हो सकते हैं। इसके नियमित सेवन से कई तरह की बीमारियों का इलाज हो जाता है। ये त्वचा के लिए बहुत उपयोगी है।

डॉक्टरों की दृष्टि से भी एलोवेरा के काफी उपयोगी बताया गया है। एलोवेरा का उपयोग कई दवाइयों में भी किया जाता है। हालांकि इसके ज्यादा से ज्यादा फायदे के लिए इसके इस्तेमाल का सही तरीके का पता होना जरूरी है। आइए जानें-

आंखों की जलन के लिए उपयोगी
कम्प्यूटर या फिर फोन पर ज्यादा काम करने से आंखों में जलन होने लगती है। 2 चम्मच ऐलोवेरा जेल को एक कप पानी में मिलाकर आंखें धो लेंगे तो आंखों को भी आराम मिलेगा और रोशनी भी बढ़ाने में उपयोगी है। फिर शरीर में कहीं कट लगा हो या किसी कीड़े ने काट लिया हो या फिर किसी अंग में जलन हो तो ऐलोवेरा का जेल लगाएं।

कील मुहासों से छुटकारा पाने में मददगार
कील मुहासों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए चेहरे पर रोज ऐलोवेरा जेल कुछ देर के लिए लगाएं और चेहरा साफ पानी से धो लें। ना केवल कील मुहासे खत्म हो जाएंगे बल्कि आपको दमकती त्वचा भी मिलेगी।

डैंड्रफ से छुटकारा के लिए उपयोगी
डैंड्रफ से परेशान हों तो 2 चम्मच ऐलोवेरा के जेल को कंडीशनर के साथ मिलाकर लगाएं। इससे जहां डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने के लिए उपयोगी है और वहीं बालों की जड़ें भी मजबूत होंगी।

जोड़ो के दर्द के लिए लाभदायक
जोड़ो के दर्द से परेशान हैं और कोई दवा असर नहीं कर रही है तो ऐलोवेरा के ताजा जेल को दर्द की जगह पर लगाएं।

वजन कम करने में सहायक
मोटापा और वजन कम करने में भी ये कारगर साबित होता है। रोज ऐलोवेरा जेल लगाने से मेटाबॉलिज्म संयमित रहता है। इससे मोटापा कम करने में मदद मिलती है।

ये भी पढ़ेंः- फास्ट फूड खाकर आप भी तो नहीं दे रहे कैंसर को दावत, जानिए, कैसे फास्ट फूड से लोग हो रहे कैंसर के शिकार?

Related posts

पाक ने सांबा और कठुआ में की गोलाबारी, सेना ने दिया करारा जवाब

shipra saxena

किसान, कर्ज, आंदोलन फिर सियासत, जाने किसान आंदोलन की इनसाइड स्टोरी

piyush shukla

जीनिए: हनीप्रीत से पूछे गए कौन-कौन से सवाल

Rani Naqvi