featured देश

शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

ुिपुिप शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

नई दिल्ली: संसद के शीतकालीन सत्र से पहले दोनों सदन में सुगम कामकाज के लिए सहमति बनाने के लिहाज से सरकार ने सोमवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। संसदीय कार्य मंत्रालय द्वारा परंपरागत रूप से संसद सत्र की शुरूआत की पूर्वसंध्या पर होने वाली बैठक में सामान्य तौर पर प्रधानमंत्री सरकार का एजेंडा बताते हैं और सरकारी कामकाज के लिए विपक्ष का समर्थन मांगते हैं।

ुिपुिप शीतकालीन सत्र से पहले केंद्र सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

चुनाव से पहले संसद का अंतिम संपूर्ण सत्र

यह लोकसभा चुनाव से पहले संसद का अंतिम संपूर्ण सत्र होगा। पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजे संसद की कार्यवाही पर असर डाल सकते हैं जहां भाजपा और कांग्रेस की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है।

11 दिसंबर को आएंगे चुनाव के नतीजे

मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में चुनाव के नतीजे 11 दिसंबर को आएंगे। अब देखने वाली बात यह होगी जनता ने किसे चुना है। क्या मध्यप्रदेश में कांग्रेस अपना सियासी रूपी वनवास खत्म कर पाएगी। या फिर शिवराज का राज जारी रहेगा। इसी दिन संसद सत्र शुरू होगा।

सरकार राज्यसभा में लंबित ‘तीन तलाक’ विधेयक पारित करने पर जोर देगी। उसने तीन तलाक को रोकने के लिए अध्यादेश लागू किया है। सामान्य रूप से शीतकालीन सत्र नवंबर में शुरू होता है। हालांकि लगातार दूसरी साल इस बार इसकी शुरूआत दिसंबर में होगी। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की वजह से इस साल सत्र देरी से शुरू हो रहा है।

Related posts

अमेरिका में योग्य लोग ही आएं नहीं चाहिए कचरा- राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

mahesh yadav

पाक और अफगानी खिलाडियों को एक दूसरे से भिडना पडा महंगा, आईसीसी ने ठोंका जुर्माना

mahesh yadav

भारत की पहली जस्टिस सिटी का निर्माण कर रहा है आंध्र प्रदेश

Rani Naqvi