BCCI का आरोप, चैंपियंस ट्रॉफी के फॉर्मेट बदलना चाहती है ICC

BCCI का आरोप, चैंपियंस ट्रॉफी के फॉर्मेट बदलना चाहती है ICC

मुंबई। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल ने 2021 में भारत में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी के फॉर्मट में बदलाव करना चाहती है। दरअसल फाइनेशंल साइकल में रेवन्यू बंटवारे के बाद आईसीसी को काफी नुकसान हुआ है और इसी की भरपाई के लिए उसने इस दिशा में कदम उठाया है। कुछ सदस्य देश भी आईसीसी पर ऐसा करने का दबाव डाल रहे हैं कि 50 ओवर के इस टूर्नमेंट को टी-20 प्रारूप में करवाया जाए। इसके बाद आईसीसी और बीसीसीआई एक बार फिर आमने-सामने आ सकते हैं। इससे पहले टैक्स में छूट न मिलने पर आईसीसी ने इस टूर्नमेंट का आयोजन भारत से बाहर कहीं करवाने की बात भी कही थी।

इस साल फरवरी में हुई आईसीसी की बोर्ड मीटिंग में भी भारत सरकार द्वारा टैक्स में छूट न दिए जाने पर चिंता जाहिर की गई थी। इन चिंताओं के मद्देनजर ही आईसीसी ने अपने प्रबंधन को 2021 चैंपियंस ट्रोफी के लिए लगभग इसी टाइम जोन में वैकल्पिक आयोजन स्थलों की खोज करने को कहा था। आईसीसी का यह रवैया भारतीय बोर्ड के सदस्यों को ज्यादा पसंद नहीं आया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के एक सूत्र ने बताया, ‘इस प्रारूप में बदलाव नहीं किया जा सकता। चैंपियंस ट्रोफी हमारे पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के विजन का हिस्सा है। उनकी पांचवीं पुण्यतिथि पर इसका आयोजन भारत में होने जा रहा है।