यूपी 8 12 आत्मनिर्भरता की ओर बरेली की जिला जेल, बाजार में उतारेगी कई बेकरी उत्पाद

बरेली: आत्मनिर्भरता कोरोना काल की सबसे बड़ी उपलब्धि है, इसी दौरान आयुर्वेद के प्रति बढ़ते रुझान को देखते हुए बरेली की जिला जेल में मेडिसन प्लांट की नर्सरी शुरु की गई है। इसे बाजार की मांग के आधार पर तैयार किया जा रहा है। साथ ही जेल परिसर में हाई टैंक बेकरी भी बनाई गई है। जल्द ही यहां के उत्पाद बाजार में उतारे जायेंगे।

कैदियों के द्वारा किया जा रहा कार्य

जिला जेल अधीक्षक विजय विक्रम सिंह ने बताया कि परिसर के मेडिसन बगीचे में सारा काम कैदियों के द्वारा किया जाता है। इसके लिए उनको जरूरी प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है। इन्सुलिन प्लांट्स, पिस्ता, अश्वगंधा, कपूर, छोटी-बड़ी इलायची, कपूर, अजवाइन, आंवला और भृंगराज की पौध कैदी तैयार कर रहे हैं। निकट भविष्य में इन प्लांट्स की पौध आयुर्वेदिक कम्पनियों और मेडिसन गार्डनस को दी जायेगी।

साफ-सफाई पर भी विशेष जोर

जिला जेल में बंद कैदियों ने बड़ी मेहनत से बेकार जमीन को तैयार कर उसमें केले का बाग लगाया है। केले के एक पौधे में 100 से 150 केला लगने की संभावना है। बेकरी का जिक्र करते हुए सिंह ने बताया कि जेल परिसर में ब्रेकरी का  बंद और ब्रेड सप्ताह में दो दिन कैदियों दिया जा रहा। बेकरी में काम करने वाले सभी कैदियों के पहनावे और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाता है।

आत्मनिर्भरता की ओर बरेली की जिला जेल, बाजार में उतारेगी कई बेकरी उत्पाद

बेकरी उत्पाद

कोरोना के चलते जिला जेल में परिजनों से मिलना इन दिनों बंद है। कैदियों और उनके परिजनों की सुविधा को देखते हुए आने वाले परिजनों की कैदियों बात इंटर कॉम  के जरिये करवायी जा रही है। इसमें विशेष बात यह है कि कैदियों से इंटर कॉम के जरिये बात करने वालों में अधिकांश महिलाएं होती है। कैदियों द्वारा उच्चकोटि के मास्क तैयार किये जा रहे हैं, बरेली की जिला जेल में 36,000 मास्क तैयार किये जा चुके है।

जेल अधीक्षक ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार के चार साल पूरे होने पर छह कैदियों को रिहा कर दिया गया है। गौशाला में दूध का उत्पादन भी बेहतर करने की तैयारी है, इसके बाद जेल के लिए बाहर से दूध नहीं खरीदना पड़ेगा।

केन-बेतवा के जुड़ने से बदलेगी बुंदेलखंड की किस्मत, अटल स्वप्न होगा साकार

Previous article

बढ़ती महंगाई के विरोध में प्रयागराज कांग्रेस का प्रदर्शन, सरकार से मांगा जवाब

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured