fb09ec1f ffa9 47b9 8b06 e38d24e3fd6d बराक ओबामा ने राहुल गांधी की तुलना एक छात्र से की, लिखा- जिसने कोर्सवर्क तो किया, लेकिन योग्यता और जनून की कमी
फाइल फोटो

नई दिल्ली। अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव को हलचलें काफी तेज थी। लेकिन नतीजे आने के बाद सब कुछ पहले जैसा ही हो गया है। अमेरिका से चुनाव की खबर तो कम हुई लेकिन इसके बाद एक खबर तेजी से फैल रही है। बराक ओबामा की हाल ही में एक किताब आई है जो उनके निजी जीवन पर कम और राजनीतिक जीवन पर अधिक है। इस किताब में बराक ओबामा ने राजनीति में अपने शुरूआती दिनों से लेकर पाकिस्तान के एबटाबाद में ओसामा बिन लादेन के खत्मे तक के बारे में लिखा है। साथ ही अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बारे में भी लिखा है। ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ में राहुल गांधी पर टिप्पणी करते हुये उन्हें कम योग्यता और जुनून की कमी वाला नेता बताया है।

अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में छपा इस किताब का रिव्यू-

बता दें कि राष्ट्रपति पद से हटने के बाद बराक ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ लिखी है। जिसमें अपने अनुभवों को साझा किया है। इस किताब की भारत में भी चर्चा है, क्योंकि किताब के अंदर कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत अन्य कुछ लोगों का जिक्र है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर बराक ओबामा ने जो टिप्पणी की है, वो चर्चा का विषय बनी हुई है। अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में इस किताब का रिव्यू छपा है, जिसमें किताब के अंश लिखे गए हैं। इसी के मुताबिक कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर बराक ओबामा ने किताब में लिखा है, ‘उनमें एक ऐसे नर्वस और अपरिपक्व छात्र के गुण हैं। जिसने अपना होमवर्क किया है और टीचर को इम्प्रेस करने की कोशिश में है। लेकिन गहराई से देखें तो योग्यता की कमी है और किसी विषय पर महारत हासिल करने के जुनून की कमी है। गौरतलब है कि बराक ओबामा 2017 में भारत दौरे पर आए थे, उस समय राहुल गांधी से उनकी मुलाकात हुई थी।

किताब में जो बाइडेन, पुतिन और मनमोहन सिं​ह का ​भी जिक्र-

बराक ओबामा ने अपनी किताब में राहुल गांधी के अलावा भारत पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का भी जिक्र करते हुये उनकी तारीफ की है। मनमोहन सिंह के बारे में ओबामा ने लिखा कि उनमें एक तरह की अगाध निष्ठा है। ओबामा ने अपनी किताब में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव जीते जो बाइडेन का जिक्र करते हुये उन्हें सभ्य व्यक्ति बताया है। वहीं, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की तुलना स्ट्रीट-स्मार्ट बॉसेज से की है। उन्होंने लिखा कि पुतिन एक समय में शिकागो को चलाने वाले स्ट्रीट-स्मार्ट बॉसेज की याद दिलाते हैं।  वहीं भारत के प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह में एक भावशून्य ईमानदारी है, जो उन्हें अलग बनाती है।

Trinath Mishra
Trinath Mishra is Sub-Editor of www.bharatkhabar.com and have working experience of more than 5 Years in Media. He is a Journalist that covers National news stories and big events also.

पीएम ने किया एलान, कोविड-19 आसियान रिस्पॉन्स फंड में 10 लाख डॉलर देगा भारत

Previous article

आज है नरक चतुर्दशी, जानें पूजा की विधि और महत्व

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.