पूर्व कैबिनेट मिनिस्टर बंडारू दत्तात्रेय के 21 वर्षीय बेटे को आया हार्ट अटैक, मौत

पूर्व केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री और बीजेपी सांसद बंडारू दत्तात्रेय के 21 वर्षीय बेटे वैष्णव का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वैष्णव एमबीबीएस तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहे थे। सीने में दर्द उठने पर उन्हें सिकंदराबाद के गुरु नानक हास्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान बुधवार सुबह निधन हो गया।इस खबर को मिलते ही समर्थकों में शोक की लहर दौड़ गई।

 

 

दक्षिण भारत की राजनीति में बंडारू दत्तात्रेय बीजेपी के अहम चेहरे हैं। वह तेलंगाना के सिकंदराबाद से सांसद हैं। नरेंद्र मोदी सरकार में वर्ष 2014 से एक सितंबर 2017 के बीच बंडारू दत्तात्रेय श्रम एवं रोजगार मंत्री थे।इससे पहले वह अटल बिहारी बाजपेयी की केंद्रीय कैबिनेट में भी शामिल रह चुके हैं। मोदी सरकार में श्रम एवं रोजगार मंत्री रहते हुए बंडारू ने देश में बेरोजगार युवाओं के लिए पहली बार रोजगार मेले के आयोजन की पहल की।