बगदादी ने इराक में मानी हार, लड़ाकों से कहा लौट जाओ या खुद को उड़ा दो!

काहिरा। अमेरिका के नेतृत्व में इराक मोसुल को आईएस आतंकी संगठन से मुक्त कराने के लिए लगातार आतंकवादियों को तेजी से मार रहा है। लेकिन अब ऐसा लगता है कि इस्लामिक स्टेट का सरगना आतंकी अबू बकर अल -बगदादी ने इराक के डर से अपनी हार स्वीकार कर ली है।

खबरों की मानें तो बगदादी ने अपनी हार को अपनाते हुए एक वीडियो शेयर किया है जिसमें में वो अपने हुक्मरानों को संबोधित कर रहा है। बगदादी कहता है या तो वे अपने -अपने देशों को लौट जाएं या फिर अपने आप को उड़ा दें। इसके साथ ही कहा, लड़ाकों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि मरने के बाद वे जन्नत जाएंगे और वहां उन्हें 72 हूरें मिलेंगी। अल अरबिया के बगदादी चैनल में अलसुमारिया के हवाले में बताया कि आईसिस के धर्मगुरुओं और मौलवियों के बीच बगदादी का ये बयान सभी को वितरित किया गया है।

बता दें कि इराक ने आतंकी संगठन के खिलाफ ये अभियान पिछले साल अक्टूबर में शुरु किया था। जिसमें अपने जारी बयान में इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल आबादी ने कहा था कि वो जल्द ही इस आतंकी संगठन की चपेट से मोसुल शहर को आजाद करा लेंगे। मोसुल के प्रिय लोगों, इराकी राष्ट्र जल्द ही एक साथ जीत का जश्न मनाएगा। मोसुल इराक का सबसे बड़ा सुन्नी बहुल शहर है। इस शहर पर साल 2014 से आतंकी संगठन आईएस ने कब्जा कर लिया था। हालांकि इराकी सेना ने इसको अपने कब्जे में लेने के लिए लंबे समय से कोशिश कर रही है।