January 28, 2022 11:55 am
featured उत्तराखंड

बागेश्वर: अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन, DM ने की योग करने की अपील

WhatsApp Image 2021 06 21 at 16.10.46 बागेश्वर: अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन, DM ने की योग करने की अपील

हिमांशु गढ़िया, संवाददाता

सातवें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने लार्इव प्रसारण द्वारा सभी को योग दिवस की शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि भले ही हम सामुहिक रूप से योगाभ्यास नहीं कर पा रहे हैं लेकिन लोग ऑनलार्इन जुड़कर अपने घरों में योग कर रहे हैं।

‘उत्तराखंड की धरती से निकला योग’

सीएम तीरथ ने कहा कि उत्तराखण्ड की धरती से निकलकर ही योग देश और दुनिया में पहुंचा है। उन्होंने योग की महत्ता एवं योग के सकारात्मक प्रभाव का प्रयोग बताया। साथ ही राष्ट्र से योग पद्धति अपनाते हुए नकारात्मकता से निकलते हुए सकारात्मकता तक के सफर को करने की अपील की। उन्होंने भारतीय संस्कृति के इस योग का महत्व वर्तमान कोरोना संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत भी रेखांकित किया।

सीएम ने किया योगाभ्यास

इस अवसर पर मुख्यमंत्री तीरथ, वन मंत्री हरक सिंह रावत द्वारा उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्व विद्यालय में योगाभ्यास किया गया। जिसका लार्इव प्रसारण जनपद में किये जा रहे योगाभ्यास के दौरान किया गया।

सुबह 6:30 बजे कार्यक्रम का आयोजन

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ब्लॉक सभागार बागेश्वर में जिला प्रशासन एवं आयुष विभाग के सहयोग से आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रात: 06:30 बजे DM विनीत कुमार, SP अमित श्रीवास्तव, मुख्य विकास अधिकारी डीडी पंत, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, मुख्य चिकिसाधिकारी डॉ. बीडी जोशी द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया।

योग आत्मिक बल भी देता है

जिलाधिकारी विनीत कुमार ने अन्तराष्ट्रीय योग दिवस की बधार्इ देते हुए कहा कि योग न सिर्फ शारीरिक बल्कि आत्मिक बल भी देता है। बल्कि इसके कारण रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है। इसलिए सभी लोगों को योग प्राणायाम एवं व्यायाम की आदत डालनी चाहिए। जिससे संयमित जीवन जीने का मार्ग प्रशस्त होता है।

सबसे बड़ी कुशलता ही योग- DM

उन्होंने कहा कि प्रतिदिन योग करने से व्यक्ति के जीवन से रोक, शोक, चिन्ता, तनाव, अवसाद आदि कमजोरियां समाप्त हो जाती है। इस प्रकार योग व्यस्त दिनचर्या वालों के लिए भी एक रामबाण है। कर्म करने में सबसे बड़ी कुशलता ही योग है।

सभी से योग करने की अपील की

उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान के दौर में योगाभ्यास प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने के साथ-साथ एक सकारात्मक ऊर्जा के निर्माण करने में भी सहयोगी है। जिससे शारीरिक-मानसिक दोनों प्रकार के तनाव को दूर किया जा सकता है। एक स्वस्थ जीवन प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने जन सामान्य से योग करने की अपील भी की।

कई अधिकारी रहे मौजूद

इस अवसर पर मुख्य कृषि अधिकारी बी.पी.मौर्या, वरिष्ठ कोषाधिकारी पूरन चन्द्र उप्रेती, परियोजना निदेशक शिल्पी पन्त, जिला विकास अधिकारी केएन तिवारी, उप जिलाधिकारी बागेश्वर योगेन्द्र सिंह, जिला क्रीडा अधिकारी विनोद वल्दिया समेत विभिन्न अधिकारी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन आयुष विभाग के डॉ एंजल पटेल द्वारा किया गया।

Related posts

यूपी में बिना अनुबंध नहीं रख सकेंगे किरायेदार, जानिए क्या हैं नए नियम

Aditya Mishra

भारतीय उप-उच्चायुक्त को पाकिस्तान ने किया तलब, सीमा पर उल्लंघन की शिकायत

bharatkhabar

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले छाया आंतक का खतरा

shipra saxena