RAMDAV बाबा रामदेव ने बनाया 92 सेवाव्रतियों को आजीवन संन्यासी

हरिद्वार। चैत्र माह की शुक्लपक्ष की नवमी तिथि को बाबा रामदेव ने 92 आजीवन सेवा व्रतियों को संन्यास की दीक्षा देकर 2050 तक तैयार होने वाले 1000 आजीवन सेवा व्रती संन्यासियों में जोड़ दिया है जिसमें से बाबा अपना अगला उत्तराधिकारी चुनेगे। बीते रविवार को हरिद्वार में इसको लेकर हरिद्वार में भव्य आयोजन किया गया। इसके पहले इस कार्यक्रम के तहत पतंजली योगपीठ के ऋषि यज्ञ स्थल पर चतुर्वेद पारायण यज्ञ का आयोजन किया गया था। इस यज्ञ के समापन के साथ ही बाबा ने इस सेवाव्रतियों को देवता,ऋषि,सूर्य अग्नि आदि को साक्षी मानकर हरिद्वार के गंगा तट स्थित वीआईपी घाट पर दीक्षित किया।

RAMDAV बाबा रामदेव ने बनाया 92 सेवाव्रतियों को आजीवन संन्यासी

इस दीक्षा कार्यक्रम के पहले इने सेवाव्रतियों को लेकर शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली गई। इन सेवाव्रतियों की दीक्षा का कार्यक्रम आश्रम में बीते 21 मार्च से प्रारम्भ हुआ था। ये बाबा के उन 1000 दीक्षुकों में से हैं जिनमें से बाबा रामदेव अपना उत्तराधिकारी भी चुनेंगे। इन सभी सेवाव्रतियों को दीक्षा के बाद संकल्प कराते हुए बाबा ने कहा कि यहां से संन्यास की दीक्षा ग्रहण करने वाले हर सेवाव्रती को 2050 तक भारत को आध्यात्मिक और आर्थिक महाशक्ति के तौर पर प्रतिष्ठापित करने का पूर्ण संकल्प लें।

इस समारोह की खास बात यह रही कि इसमें से 51 युवा विद्वान और 41 विदूषियां भी शामिल हुई हैं। ये सभी अपने-अपने क्षेत्रों में उच्चशिक्षित हैं। बाबा ने अपना उत्तराधिकारी घोषित करने के पहले इन्हे सम्पूर्ण भारत में भ्रमण कर अपने ज्ञान विस्तार में लगाया है। चतुर्वेद पारायण महायज्ञ की समाप्ति के साथ ही प्रातकाल में इनका दीक्षा कार्यक्रम सम्पन किया गया। इसमें ही संन्यास की दीक्षा का मुख्य अंग विरजा होम पूरा किया गया। संन्यास की दीक्षा लेने वाले सभी व्रतियों का मुडन संस्कार स्वय बाबा रामदेव में गंगातट पर किया। इन सभी दीक्षित नव सन्यासियों का अभिषेक 108 बार किया गया। इसके साथ ही गंगा के तट पर इन संन्यासियो ने अपना शिखा सूत्र सहित जलांजलि देकर विसर्जित किया। इसके बाद राष्ट्र निर्माण का संकल्प लेकर ये सभी वापस आश्रम में लौट आए। इन नए संन्यासियों में अगल-अलग प्रांत के हर जाति के लोग शामिल थे।

यूपी की 100 डॉयल सेवा बेअसर न्यूज एंकर ने बताई अपनी आपबीती

Previous article

2050 तक देश में ये संन्यासी लाएंगे नई क्रांति बोले बाबा रामदेव

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.