September 25, 2022 12:36 am
featured धर्म पर्यटन यूपी

अयोध्या इंटरनेशनल एयरपोर्ट को केंद्र से मिले 250 करोड़, योगी ने किया प्रधानमंत्री का धन्यवाद

अयोध्या इंटरनेशनल एयरपोर्ट को केंद्र से मिले 250 करोड़, योगी ने किया प्रधानमंत्री का धन्यवाद

अयोध्या: अयोध्या इंटरनेशनल एयरपोर्ट जल्द ही बनकर तैयार हो जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने भी मदद जारी कर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया।

योगी ने कहा श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य राममंदिर निर्माण का काम युद्धस्तर पर चल रहा है। अयोध्या भारत की सनातन आस्था का केंद्रबिंदु है, यहां लाखों की संख्या में श्रद्धालु अलग-अलग पर्व और त्योहारों पर आते हैं। यहां पर्यटन और श्रद्धा का एक समन्वित रूप देखने को मिलता है।

विकास के पथ पर अयोध्या

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार अयोध्या के समग्र विकास के लिए कार्य कर रही है। इसके लिए प्रधानमंत्री और केंद्र सरकार का बहुत धन्यवाद।

अयोध्या को अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की योजना है। इसके लिए अयोध्या को इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में डेवलप करने का प्रस्ताव भी भारत सरकार के पास भेजा गया था।

एयरपोर्ट निर्माण की भूमि क्रय के लिए लगभग 1 हजार करोड़ की राशि दी है। इसके अधिग्रहण का कार्य चल रहा है।  अब तक 377 एकड़ की भूमि क्रय कर ली गयी है और काम भी युद्धस्तर पर जारी है।

आस्था और विकास साथ-साथ

योगी ने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि केंद्र सरकार ने एयरपोर्ट पर्यटन विकास के लिए 250 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है। इसके साथ ही एयरपोर्ट विकास का कार्य चलता रहेगा, जिससे आने वाले समय में एयरबस जैसे और अन्य अत्याधुनिक विमान का संचालन हो पायेगा।

इस निर्माण कार्य से सभी राम भक्तों को अयोध्या आने में काफी आसानी होगी। इसके साथ ही विश्व पटल पर यहां की अलग छवि निर्मित होगी। राम मंदिर निर्माण के साथ साथ उत्तर प्रदेश सरकार अयोध्या का कायाकल्प करने की तैयारी में है।

आने वाले कुछ वर्षों में यहां विकास और डेवलपमेंट के कई बड़े प्रोजेक्ट संचालित किए जाने हैं। इससे अयोध्या ही नहीं पूरे उत्तर प्रदेश के विकास को नई ऊंचाई मिलेगी।

Related posts

आखिर बिप्लब देब अपने बयानों से क्या साबित करना ताहते हैं?

Breaking News

जालौन के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में हेलीकॉप्‍टर से पहुंचाई गई राहत सामग्री

Shailendra Singh

मोबाइल फोन में ओटोमेटिक आधार हेल्पलाइन नंबर सेव होने के मामले पर गूगल ने मानी गलती

Rani Naqvi