उत्तराखंडःअगस्त क्रांति समारोह के दिन जेल प्रशासन ने कार्यक्रम को फीका कर, किया महापुरुषों का अपमान

उत्तराखंडःअगस्त क्रांति समारोह के दिन जेल प्रशासन ने कार्यक्रम को फीका कर, किया महापुरुषों का अपमान

अल्मोड़ा कारागार प्रशासन के पास राष्ट्रीय पर्वों के आयोजन के लिए बजट नहीं है। यह बात अल्मोड़ा में ऐतिहासिक अगस्त क्रांति समारोह के दिन जेल प्रशासन की ओर से की गई है। आपको बता दें कि अल्मोड़ा के ऐतिहासिक कारागार के नेहरू वार्ड में हर साल धूम धाम से मनाए जाने वाले समारोह को इस बार पूरी तरह औपचारिक बना दिया गया है।

 

उत्तराखंडःअगस्त क्रांति समारोह के दिन जेल प्रशासन ने कार्यक्रम को फीका कर किया महापुरुषों का अपमान

 

उत्तराखंडःकोसी नदी में सिल्ट आने से अल्मोड़ा नगर में पेयजल संकट

गौरतलब है कि कारागार के नेहरू वार्ड में न तो रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन ही रखा गया। और न ही अन्य सालों की तरह देश प्रेम से ओतप्रोत कार्यक्रम ही आयोजित किए गए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चौहान इस व्यवस्था को देख काफी नाराज दिखे।

चौहान ने जेल प्रशासन के इस कदम को महापुरुषों का अपमान बताया।और इसके लिए उच्चाधिकारियों से शिकायत करने की बात कह। डीएम ने भी इस पूरे प्रकरण की जांच कराने की बात कह। मालूम हो कि अल्मोड़ा के ऐतिहासिक कारागार पंडित जवाहर लाल नेहरु सहित चार सौ से अधिक देशभक्त बंदी रहे थे।

आपको बता दे कि नेहरू वार्ड में न तो रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन ही रखा गया। और न ही अन्य सालों की तरह देश प्रेम से ओतप्रोत कार्यक्रम ही आयोजित किए गए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे डिप्टी स्पीकर रघुनाथ सिंह चौहान इस व्यवस्था को देख काफी नाराज दिखे।

महेश कुमार यदुवंशी