अटकलों का बाजार गरम, केजरीवाल जेटली से मांग सकते हैं माफी

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया से माफी मांगने के बाद केजरीवाल ने सोमवार को केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी पर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप के बाद उनसे भी माफी मांग ली। केजरीवाल की इस माफी मुहिम से उनकी पार्टी का अस्तित्व खतरे में पड़ गया है। वहीं मजीठिया और गडकरी से माफी मांगने के बाद ये अटकले लगाई जा रही हैं कि अब केजरीवाल उन सब लोगों से भी माफी मांगेगे जिन पर उन्होंने संघीन आरोप लगाए हैं। इस कड़ी में वित्त मंत्री अरुण जेटली का नाम भी शामिल है, जिन पर उन्होंने भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था।

जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दर्ज करवाया हुआ हैं और यहां संयोग की बात ये हैं की केजरीवाल की तरफ से पैरवी बीजेपी के पूर्व नेता राम जेठमलानी कर रहे हैं, जिन्होंने  एक वकील होने के नाते पहले ही केजरीवाल को माफी मांगने की सलाह दी हुई है। जेटली ने केजरीवाल पर 10 करोड़ रुपए का मुकदमा किया है। उन्हें मार्च-अप्रैल में 24 बार कई केसों में अदालत के समक्ष पेश होना है। सोशल मीडिया पर विरोधी दलों के नेताओं से लेकर समर्थक तक केजरीवाल की नई रणनीति पर हमला बोल रहे हैं। इससे पहले वे पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया और हरियाणा के नेता अवतार सिंह भड़ाना से माफी मांग चुके हैं

वहीं अब उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कह रहे हैं कि वे किसी अहम में रुचि नहीं रखते हैं। कानूनी पचड़े में समय नहीं खराब करना चाहते, बल्कि लोगों की सेवा करना चाहते हैं। विधानसभा परिसर में डिप्टी सीएम ने कहा कि अगर कोई हमारी टिप्पणी से आहत होता है, तो माफी मांग लेंगे। हम इसे अहं का टकराव नहीं बनाएंगे। लोगों के लिए काम करने आए हैं। हमारे पास कोर्ट कचहरी जाने का वक्त नहीं है। हमने खुद के लिए समय निकाला है, ताकि लोगों के लिए लड़ सकें। बता दें कि आप नेताओं ने एक टेलीकॉम कंपनी से जुड़े टैक्स के मामले में भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। इससे पहले केजरीवाल पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया और हरियाणा के नेता अवतार सिंह  भड़ाना से माफी मांग चुके हैं।