ravat जम्मू-कश्मीरः मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को बताया बेबुनियाद- सेना प्रमुख

जम्मू-कश्मीर मानवाधिकार उल्लंघन के संबंध में संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट को सेना प्रमुख बिपिन रावत ने बेबुनियाद बताया। आज बुधवार को सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा कि हमें इस रिपोर्ट पर ध्यान नहीं देना चाहिए। सेना प्रमुख ने कहा कुछ रिपोर्ट्स मोटिवेटेड होती हैं। रावत ने सेना की तारीफ करते हुए कहा कि सेना घाटी में शानदार काम कर रही है।रावदत ने कहा कि जो आतंकी आज कल हमले की साजिशें रच रहे हैं। वह तकनीक का काफी इस्तेमाल कर रहे हैं।

 

ravat जम्मू-कश्मीरः मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को बताया बेबुनियाद- सेना प्रमुख

मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर संयुक्त राष्ट्र ने एक रिपोर्ट जारी की थी

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर संयुक्त राष्ट्र ने एक रिपोर्ट जारी की थी। जिसमें सेना पर सवाल उठाए गए थे। इस रिपोर्ट का भारत सरकार समेत सभी राजनीतिक दलों ने कड़ा विरोध किया गया था।

सहकारिता विभाग उत्तराखंड और एनसीडीसी के सहयोग से बदलेगी पर्वतीय क्षेत्रों की तस्वीर- आर. मिनाक्षी सुन्दरम

रिपोर्ट में कश्मीर के मानवाधिकार उल्लंघन के मामले में तत्काल समाधान की जरूरत पर जोर दिया गया था

रिपोर्ट में कश्मीर के मानवाधिकार उल्लंघन के मामले में तत्काल समाधान की जरूरत पर जोर दिया गया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि कश्मीर में राजनीतिक समाधान के किसी भी प्रस्ताव में यह बात होनी चाहिए कि वहां हिंसा का क्रम बंद हो और मानवाधिकारों के उल्लंघन के लिए जवाबदेही तय की जाए।रिपोर्ट में हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी बुरहान वानी की भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा मारे जाने की भी चर्चा की गई है। जिसका घाटी में विरोध हुआ था। रिपोर्ट में कहा गया है कि कश्मीर में नागरिकों के अपहरण, हत्या और यौन हिंसा जैसे मानवाधिकार उल्लंघन के वकये जारी हैं।

भारत सरकार ने कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र संघ  की रिपोर्ट को भ्रामक, पक्षपातपूर्ण और प्रेरित कहते हुए खारिज कर दिया था

आपको बता दें कि भारत सरकार ने कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र संघ  की रिपोर्ट को भ्रामक, पक्षपातपूर्ण और प्रेरित कहते हुए खारिज कर दिया था। विदेश मंत्रालय ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि रिपोर्ट पूरी तरह से पूर्वाग्रह से प्रेरित है। और गलत तस्वीर पेश करने की कोशिस की गई है। मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि देश की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्लंघन करने की कोशिस है।अाज इस रिपोर्ट पर आर्मी चीफ विपिन रावत ने कहा कि यूएन की रिपोर्ट बेबुनियाद है।

महेश कुमार यदुवंशी

संजू की एक्टिंग की तारीफ में परेश रावल ने कह दी ये बात, रणबीर कपूर होंगे खुश

Previous article

शरद यादव का विवादित बयान कहा, ‘सीएम योगी का संविधान से कोई वास्ता नहीं’

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured