featured Breaking News देश

आंध्र को विशेष दर्जे की मांग को लेकर लोकसभा में शोरगुल

Arun jeitly आंध्र को विशेष दर्जे की मांग को लेकर लोकसभा में शोरगुल

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने पर केंद्र सरकार के आश्वासन के बावजूद वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों ने लोकसभा में बुधवार को अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखा। केंद्र सरकार की गठबंधन सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) ने सरकार के आश्वासन के बाद खुद को विरोध-प्रदर्शन से अलग कर लिया है। लोकसभा की कार्यवाही बुधवार को शुरू होने के बाद जैसे ही प्रश्नकाल शुरू हुआ, वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य अध्यक्ष के आसन के निकट इकट्ठा हो गए।

Arun jeitly

पार्टी के सदस्यों ने ‘हमें न्याय चाहिए’ और ‘आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा दो’ जैसे नारे लगाए। अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने आंदोलनकारी सदस्यों से पूछा, “वित्त मंत्री के बयान के बावजूद आप प्रदर्शन जारी रखे हुए हैं। आप ऐसा क्यों कर रहे हैं?” वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को सदस्यों को आश्वासन दिया कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का मुद्दा विचाराधीन है।

सदन में शोरगुल के बीच एक संक्षिप्त बयान में जेटली ने कहा, “केंद्र सरकार आंध्र प्रदेश से किए गए वादे के पक्ष में है। आज भी मैंने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू से बात की है और हम इसका समाधान ढूंढने को प्रयासरत हैं।” वाईएसआर के सांसदों ने हालांकि अपना प्रदर्शन दोपहर तक जारी रखा। तेदेपा नेता तथा केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री वाई.एस.चौधरी ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी ‘इंतजार करो और देखो’ की नीति पर चलेगी।

 

Related posts

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए नहीं होगा कोई टेस्ट, करना होगा बस यह काम

Shailendra Singh

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत सचिवालय स्थित राज्य आपदा परिचालन केन्द्र पहुंचे

Rani Naqvi

बूढ़ी गाड़ियों का युवाओं को संदेश, सड़क पर संभलकर चलें और करें पर्यावरण की चिंता

Aditya Mishra