अन्तत: जिंदगी से हार गए मनोहर पार्रिकर, शाम को ली अंतिम सांस, राष्ट्रपति-पीएम ने जताया दु:ख

अन्तत: जिंदगी से हार गए मनोहर पार्रिकर, शाम को ली अंतिम सांस, राष्ट्रपति-पीएम ने जताया दु:ख

एजेंसी, गोवा। भाजपा के गोवा में मुख्यमंत्री रहे 63 वर्षीय मनोहर पार्रिकर का निधन हो गया बताया जा रहा है कि रविवार (आज) की शाम को उनका निधन हुआ है। पर्रिकर अग्नाशय की गंभीर बीमारी से पीड़ित थे। सीएमओ ने आज शाम ट्वीट कर मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की सेहत की हालत बेहद नाजुक होने की जानकारी दी थी। इस ट्वीट के कुछ ही देर बाद पर्रिकर के निधन की खबर आई। पर्रिकर के निधन से पूरा देश शोकाकुल है। गोवा के मंत्री विजय सरदेसाई ने कल यानि बीते शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से मुलाकात की थी। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा था कि पर्रिकर का स्वास्थ्य बिगड़ा है लेकिन स्थिर बना हुआ है।

सरदेसाई गोवा के पांच विधायकों के साथ पर्रिकर के निजी आवास पर उनसे मिलने पहुंचे थे। पर्रिकर से मिलने पहुंचे सभी विधायक राज्य की भाजपा नीत सरकार के सहयोगी हैं। इनमें गोवा फॉरवार्ड पार्टी के जयेश सलगांवकर और विनोद पाल्येकर और निर्दलीय रोहन खौंते, गोविंद गावडे और प्रसाद गावंकर शामिल थे। डोना पौला स्थित पर्रिकर के निजी आवास से निकलते हुए सरदेसाई ने संवाददाताओं से कहा कि मुख्यमंत्री का स्वास्थ्य बिगड़ा है, लेकिन स्थिर है।

उन्होंने कहा, जब बीमारी का पता चला था तो मुख्यमंत्री ने पद छोड़ने की इच्छा जताई थी, उस वक्त हमने स्थाई समाधान और स्थिरता की मांग की थी। अब उनका स्वास्थ्य बिगड़ा है, लेकिन हम उनके साथ हैं। मुझे नहीं पता कि मेडिकल में इस अवस्था के लिए क्या कहेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय का कहना है कि उनकी हालत स्थिर है, इसलिए हम मान रहे हैं कि वह स्थिर हैं।

च्छा जताई थी, उस वक्त हमने स्थाई समाधान और स्थिरता की मांग की थी। अब उनका स्वास्थ्य बिगड़ा है, लेकिन हम उनके साथ हैं। मुझे नहीं पता कि मेडिकल में इस अवस्था के लिए क्या कहेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय का कहना है कि उनकी हालत स्थिर है, इसलिए हम मान रहे हैं कि वह स्थिर हैं।