अमृतसर रेल हादसे के बाद पहली बार सामने आया मुख्य आयोजक, दी सफाई

नई दिल्ली : पंजाब के अमृतसर में हुए रेल हादसे के बाद कार्यक्रम के मुख्य आयोजक सौरभ मदान उर्फ मिट्ठू का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उसने एक संदेश के जरिए अपनी सफ़ाई दी है।

भावुक होकर मिट्ठू ने की लोगों से मदद की अपील

इस वीडियो में भावुक होते हुए मिट्ठू ने कहा कि दशहरे के दिन जो हुआ मेरा रोम-रोम दुखी है। दशहरा सभी भार्इचारे को एकत्रित करने के लिए मनाया जा रहा था, हर तरह की अनुमति ली गर्इ थी। नगर निगम से फायर ब्रिग्रेड पानी के टैंकर वहां मौजूद थे और हर तरह के सुरक्षा के पर्याप्त प्रबंध थे।

यह समारोह मैदान के अंदर था ना कि रेलवे ट्रेक पर , यहां तक कि स्टेज से 5-7 बार रेलवे ट्रेक से हटने के लिए लोगों से अपील भी की गर्इ। ये जो हुआ एक कुदरती हुआ। इस घटना के बाद कुछ लोग मेरे साथ रंजिश निकाल रहे है। इस समय मेरा पूरा परिवार बहुत दुखी हैं हमारी मदद करें।

हादसे के बाद से गायब है पूरा परिवार

बता दें कि  जौड़ा फाटक के निकट दशहरा देख रहे करीब 59  लोगों की रेलगाड़ी की चपेट में आने से मौत हो गई, जबकि करीब 57 लोग घायल हो गए थे। इस हादसे को लेकर रोष में आए लोगों ने रेल लाइनों के पास दशहरा समारोह का आयोजन करने वाले आयोजकों के घर के बाहर प्रदर्शन कर तोड़फोड़ की।

प्रदर्शनकारियों ने कौंसलर विजय मदान तथा उसके बेटे सौरभ मदान के खिलाफ नारेबाजी कर पत्थरबाजी करते हुए उनके खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद से पूरा परिवार गायब है।वहीं सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने सौरभ मदान के घर के बाहर काफी पुलिस बल तैनात किया हुआ है।