Breaking News featured देश

अतिम शाह ने ममता पर साधा निशाना, बोले- ‘चुनाव के बाद दीदी खुद को अकेला पाएंगी’

WhatsApp Image 2021 01 31 at 1.36.42 AM अतिम शाह ने ममता पर साधा निशाना, बोले- 'चुनाव के बाद दीदी खुद को अकेला पाएंगी'

हावड़ा। बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले ही राजनीति गरमाई हुई है। बंगाल में टीएमसी और बीजेपी आमने सामने है। इसी बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधा है और ऐलान करते हुए कहा कि हमारी सरकार आई तो सबसे पहले आयुष्मान योजना लागू करेंगे।

 

 

पश्चिम बंगाल में इस साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में राज्य में चुनावी हलचल तेज हो चुकी है। इसी कड़ी में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और स्मृति ईरानी ने रविवार को हावड़ा में एक रैली को संबोधित किया। शाह ने लोगों को आभासी रैली के जरिए संबोधित किया। रैली के दौरान दोनों ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। ईरानी ने कहा कि ममता को जय श्री राम से बैर है। उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा की सरकार बनने वाली है। वहीं शाह ने कहा कि जिस तरह से नेता टीएमसी का साथ छोड़ रहे हैं उससे चुनाव बाद दीदी अकेली रह जाएंगी। उन्होंने कहा कि ममता राज्य को आगे ले जाने की बजाय पीछे ले गई हैं। ईरानी के साथ मंच पर टीएमसी के पूर्व नेता सुवेंदु अधिकारी, राजीव बनर्जी, वैशाली डालमिया, प्रबीण घोषाल, रथिन चक्रवर्ती और रुद्रनील, भाजपा सांसद घोष दिलीप घोष और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय भी मौजूद रहे।

 

आपको बतादें कि जहां एक तरफ यूपी में पंचायत चुनावों की तैयारी चल रही है वहीं बंगाल में भी संग्राम जारी है। एक तरफ तृणमूल कांग्रेस है और दूसरी तरफ बीजेपी दम भर रही है। एक तरफ बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सामने अपना सियासी किला बचाने की चुनौती है तो वहीं बीजेपी के लिए बंगालियों का विश्वास जीतना किसी परिक्षा से कम नहीं होगा। इसी बीच रातनीति गरमाई हुई है और राजनीतिक दल अपनी अपनी जमीन तैयार करने में लगे हैं। इसी बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बयान सामने आया है। पश्चिम बंगाल चुनाव के मद्देनजर हावड़ा की रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने टीएमसी प्रमुख और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी बंगाल को आगे ले जाने की बजाए पीछे ले गई हैं। शाह ने ऐलान किया कि बंगाल में बीजेपी की सरकार आने के बाद कैबिनेट में पहला फैसला आयुष्मान भारत को लागू करने का होगा।

 

Related posts

पुलिस कर्मियों और गौ-तस्करों के बीच मुठभेड़, एक तस्कर ढेर

Rani Naqvi

Dhanteras 2021 : आखिर क्यों मनाया जाता है धनतेरस? जानिए क्या कहती है पौराणिक मान्यताएं

Neetu Rajbhar

लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का दिल्ली एम्स में निधन, पीएम नरेंद्र मोदी से जताया शोक

Trinath Mishra